जसूर, जेएनएन। सिपाही से लेफ्टिनेंट बने मिस्त्री के बेटे ने इतिहास रचा है। उपमंडल नूरपुर के गांव सुखार भराणा के संजीव कुमार ने शनिवार को भारतीय सेना अकादमी देहरादून से पास आउट होकर न सिर्फ अपने माता पिता बल्कि क्षेत्र का नाम भी रोशन किया है। थल सेना में लेफ्टिनेंट पद पर तैनात संजीव कुमार का ओवर ऑल रैंक सातवां रहा। संजीव के पिता केवल सिंह मिस्त्री का काम करते हैं, जबकि माता उषा देवी गृहिणी हैं।

संजीव कुमार ने दसवीं तक की पढ़ाई राजकीय उच्च पाठशाला सुखार तथा जमा दो तक की पढ़ाई राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला राजा का तालाब से की। देश सेवा का जज्बा लिए संजीव कुमार 2010 में आठ डोगरा में सिपाही भर्ती हुए थे। संजीव का कहना है कि सेना में जाने के बाद उसे पता चला कि अगर वे परीक्षा पास करेगा तो वह सेना में बड़े पद पर पहुंच सकता है, जिसके बाद उसने आगे की पढ़ाई शुरू कर दी। यह संजीव की कड़ी मेहनत का ही नतीजा है, जो वे भारतीय सेना अकादमी देहरादून से पास आउट होकर ऑफिसर बना हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस