कांगड़ा, जेएनएन। गोमतीनगर लखनऊ से मैक्लोडगंज में दलाईलामा की टीचिंग में भाग लेने आए कंप्यूटर साइंस के छात्र अक्षय राज ने रविवार को डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल टांडा के रिहायशी भवन की तीसरी मंजिल में चढ़कर आत्महत्या का प्रयास किया। इस बाबत सूचना मिलते ही टांडा पुलिस चौकी के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर करीब एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद युवक को नीचे उतारा। यही युवक शनिवार को सहौड़ा गांव में भी आत्महत्या का प्रयास कर चुका है और इसे स्थानीय लोगों ने ही अस्पताल में भर्ती करवाया था।

मानसिक रूप से परेशान युवक रविवार सुबह अचानक वार्ड से भाग गया और रिहायशी भवन की तीसरी मंजिल पर चढ़कर नीचे कूदने का प्रयास करने लगा। इस दौरान युवक के पिता व अन्य लोगों ने उसे देख लिया और जोर-जोर से चिल्लाते हुए कूदने से इन्कार करते रहे। इस संबंध में सूचना मिलते ही पुलिस चौकी टांडा से हेड कांस्टेबल पवन कुमार, मदन व र¨वद्र मौके पर पहुंचे। पुलिसकर्मी पवन कुमार ने ऊपर चढ़कर युवक को पकड़ लिया। उधर, टांडा के चिकित्सा अधीक्षक सुरेश भारद्वाज ने बताया कि टांडा की सिक्योरिटी कंपनी के कर्मचारियों को नोटिस देकर जवाब लिया जाएगा कि उन्होंने ऐसी लापरवाही क्यों बरती कि एक दाखिल मरीज वार्ड छोड़कर रिहायशी क्वार्टरों तक जा पहुंचा और कूदने का प्रयास करने लगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस