संवाद सहयोगी, नूरपुर : कोरोना टेस्टिग को लेकर तमाम अफवाह तथा उम्र की सीमा को दरकिनार करते हुए नूरपुर उपमंडल की वासा बजीरां पंचायत में स्वास्थ्य विभाग की ओर से लगाए गए कैंप में 90 वर्षीय बुजुर्ग मेलो राम ने स्वेच्छा से अपना कोरोना टेस्ट करवा कर लोगों को समाज में एक जिम्मेदार नागरिक बनने की प्रेरणा दी है। उपमंडल के तहत नगर परिषद क्षेत्र तथा पंचायतों में 10 जून से मैं स्वस्थ मेरा गांव स्वस्थ अभियान चलाया जा रहा है।

प्रदेश को कोरोना मुक्त बनाने के लिए उपमंडल के तहत हर घर से एक व्यक्ति की कोरोना टेस्टिग सुनिश्चित बनाने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से पंचायत प्रतिनिधियों तथा नगर पार्षदों को विशेष जिम्मेदारी दी गई है। वन मंत्री राकेश पठानिया के इस अभियान से सीधे तौर पर जुड़ने के बाद लोगों में इस अभियान के प्रति रुचि बढ़ी है तथा लोग स्वेच्छा से कोरोना टेस्टिग करवाने के लिए आगे आ रहे हैं।

एसडीएम डा. सुरेंद्र ठाकुर ने लोगों से कोरोना चेन को तोड़ने के लिए इस अभियान को कामयाब बनाने की अपील की है।

खैरा में 126 के हुए कोरोना टेस्ट

भवारना : चिकित्सा खंड भवारना की ओर से ग्राम पंचायत खैरा में कोरोना जांच शिविर लगाया गया। खैरा पंचायत के प्रधान राजीव धीमान ने बताया कि पंचायत में कोविड के 126 टेस्ट करवाए गए, जिसमें हर परिवार के एक सदस्य का कोविड टेस्ट करवाया गया। उन्होंने बताया कि ज्यादा टेस्ट इसलिए करवाए जा रहे हैं, जिससे कोविड मरीजों का पता लग सके।

Edited By: Jagran