संवाद सहयोगी, टौणीदेवी : राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला जंदडू के छात्र साहिल कुमार व उसके दल ने मक्की व तिल के तने की राख से एक ऐसा डिटरजेंट तैयार किया है, जो कपड़े साफ करने के साथ-साथ हाथों को भी मुलायम रखता है। इसमें उन्होंने रीठे के बीज की छाल व गोमूत्र का भी प्रयोग किया है। प्रधानाचार्य ओंकार ¨सह ने बताया कि इस विषय पर बनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट को जिलास्तर बाल विज्ञान कांग्रेस में प्रथम स्थान मिला है। अब साहिल इसे 30 अक्टूबर से नौणी विश्वविद्यालय, सोलन में होने वाली राज्यस्तरीय बाल विज्ञान कांग्रेस में प्रस्तुत करेगा। प्रधानाचार्य ने साहिल और उसके मार्गदर्शक अध्यापक जीव विज्ञान प्रवक्ता रजनीश कुमार को बधाई दी। उन्होंने बताया कि साहिल द्वारा तैयार डिटरजेंट परंपरागत चोआ विधि का उपयोग करके बनाया गया है तथा यह आधुनिक रासायनिक डिटरजेंट से अधिक सुरक्षित व सस्ता है। इस कार्य के लिए विद्यार्थी साहिल, प्रिया, शुभम, रितेश व आदित्य को सम्मानित किया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप