धर्मशाला, जेएनएन। मंगलवार को जिलेभर में महाशिवरात्रि पर्व धूमधाम से मनाया गया। लोगों ने शिवालयों में पूजा-अर्चना कर जलाभिषेक किया और भगवान शिव का आशीर्वाद लिया। जिले के मंदिरों में श्रद्धालुओं की कतारें सुबह से लग गई थी। कई स्थानों पर फलाहार व खीर के भंडारे भी लगाए गए। शिवालयों को फूलों व लाइटों से सजाया गया था।

श्री चामुंडा नंदिकेश्वर धाम मे लगा रहा श्रद्धालुओं का तांता

शिवरात्रि पर्व पर मंगलवार को श्री चामुंडा नंदिकेश्वर धाम मे श्रद्धालुओ ने माथा टेककर भगवान शिव का आशीर्वाद लिया। सुबह से शिव भक्तों का मंदिर मे तांता लगा रहा। हालांकि मदिर का पुनर्निर्माण कार्य चल रहा है, फिर भी श्रद्धालुओ ने भोले बाबा के दर्शन किए। मदिर अधिकारी ग्रिजेश चौहान ने बताया कि श्रद्धालुओं  को दर्शन करवाने के लिए दो सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए थे, ताकि कोई असुविधा न हो।

लॉरेस स्कूल मे शिव विवाह पर पेश किया नाटक

लॉरेस पब्लिक सीनियर सेकेडरी स्कूल शाहपुर में शिवरात्रि धूमधाम से मनाई। विद्यार्थियों ने शिव विवाह पर लघु नाटक प्रस्तुत किया। स्कूल निदेशक यतिन महाजन व प्रधानाचार्य नीलोफर शर्मा महाजन ने सभी को शुभकामनाएं दी।

लक्ष्मी नारायण मंदिर मे किया शिव विवाह का वर्णन

श्री लक्ष्मी नारायण मदिर परिसर नगरोटा बगवां मे महाशिवरात्रि मनाई गई। एसडीएम सिद्धार्थ आचार्य ने सायंकालीन आरती मे भाग लिया एव पूजा-अर्चना की। मदिर कमेटी के प्रधान बलरामपुरी, महासचिव घनश्याम वर्मा, विपिन चौधरी, ओम अत्री व दीपक कुमार ठाकुर ने उनका स्वागत किया। महाशिवरात्रि पर लुधियाना से पहुची जगम पार्टी ने भगवान शिव विवाह का वर्णन किया। राजा एड पार्टी ने आकर्षक झांकियां निकाली। इस मौके पर नगर परिषद अध्यक्ष सवर्णा वालिया, श्रीराम शरणम् आश्रम गोहाना की ओर से अशोक नागपाल, अनीता नागपाल अन्य सदस्य तथा गणेश उत्सव कमेटी की ओर से चेतना व आशा वालिया उपस्थित रहे।

ज्वालामुखी के शिवालयों में की पूजा-अर्चना

 शिवरात्रि पर उपमडल के मदिरों में सुबह से ही कतारें लग गई। लोगों ने बिल्व पत्र, दूध, नारियल, बेर, फूल, धतूरा, जल महादेव को अर्पित किए। शिवशक्ति, लाल शिवालय, अम्बिकेश्वर महादेव, नीलेश्वर महादेव, पुराना बाजार शिवालय मे खूब रौनक रही। इस दौरान फलाहार व खीर के भडारे भी लगाए गए। ज्वालामुखी शहर, बस स्टैड, मन्दिर मार्ग, पुराना बाजार मे स्थानीय निवासियो ने पकौड़े, आलू व खीर के भडारे लगाए। शक्तिपीठ ज्वालामुखी मे भी श्रद्धालुओ का तांता लगा रहा। नाग मन्दिर मूहल मे जागरण का आयोजन किया गया। नीलेश्वर महादेव हनुमान गली मे 14 फरवरी एक भडारे का आयोजन किया जाएगा। नागनी मदिर सपड़ी, नाग मदिर, गणेश मदिर मे बने शिवालयो मे भी पूजा-अर्चना की गई।

गंगथ मे बांटा फलाहार का प्रसाद

शिव मदिर गंगथ मे महाशिवरात्रि पर सुबह चार बजे ही पूजा-अर्चना व जलाभिषेक शुरू हो गया था। महिलाओं ने भजन-कीर्तन कर महादेव का गुणगान किया। मंदिर कमेटी ने व्रत रखने वाले श्रद्धालुओं को दूध व फलाहार वितरित किया। मदिर कमेटी के सदस्य दिनेश शर्मा ने बताया कि बुधवार को मदिर मे 12 से छह बजे तक भडारे का आयोजन किया जाएगा।

 करियाड़ा नाग मदिर में किया जलाभिषेक

सिद्ध श्री शिडू बाबा बालक नाथ नाग मदिर करियाड़ा में शिवरात्रि पर हजारों श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक किया। मंदिर के प्रबधक कुलदीप गुलेरिया की ओर से आयोजित महामृत्युजय व शतचडी पाठ दौरान श्रद्धालुओं ने यज्ञ में पूर्ण आहुति डाली। मदिर में फलाहार व अन्य विभिन्न प्रकार के व्यजनों के स्टाल लगाए गए थे। मंदिर को विदेशी फूलों व रग बिरगी लाइटो से सजाया गया है। बुधवार को मदिर मे भडारे का आयोजन किया जाएगा। समारोह मे अबाला से राजू गुप्ता, जम्मू से एसके जैन, जट्ट ट्रासपोर्ट कपनी होशियारपुर, पं. भवानी शकर, मोनू गुलेरिया, अजय व पचायत प्रधान आएस पटियाल भी इस दौरान मौजूद रहे।शाहपुर के मंदिरो मे पूजा अर्चना

 शाहपुर के झुलाड़, डोहव, भनाला व प्रेई गावो मे महाशिवरात्रि पर शिव मंदिरो मे भजन-कीर्तन व पूजा-अर्चना हुई। शिवशक्ति मंदिर झुलाड़ मे सुबह से ही श्रद्धालुओ का ताता लगा रहा। पंडित गीताराम ने हवन किया व फलो का प्रसाद बांटा।

 धीरा के शिव मंदिरों में हुए कार्यक्रम

उपमंडल धीरा के शिवालयों को महाशिवरात्रि के लिए विशेष तौर से सजाया गया था। सुबह से ही भोले बाबा के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की लंबी कतारें लगी रही। काली नाथ महादेव मंदिर  में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। 

महादेव का किया गुणगान

संघोल बाजार में शिवरात्रि पर बाजार कमेटी की ओर से झांकी निकाली गई। इसमें सभी लोगों ने हिस्सा लिया। बाजार कमेटी के सदस्य ने प्रसाद बांटा। रात को भगवान शिव का गुणगान किया गया।

नूरपुर के शिवालयो मे किया जलाभिषेक

 नूरपुर क्षेत्र के मंदिरों में सबुह से ही कतारें लगनी शुरू हो गई थी। श्रद्धालुओं ने भगवान शिव की पूजा-अर्चना की और जलाभिषेक कर आशीर्वाद लिया। सुल्याली के डिबकेश्वर मदिर मे महाशिवरात्रि कमेटी की ओर से बुधवार को भडारे का भी किया जाएगा।

अघंजर महादेव मंदिर मे महाशिवरात्रि पर पूजा की गई और श्रद्धालुओ को फलाहार बांटा गया। मंदिर में सुबह पांच बजे से ही कतारें लगनी शुरू हो गई थी। इस दौरान गुप्तेश्र्वर महादेव मंदिर में भी पूजा-अर्चना की। मेले मे खनियारा सहित नजदीकी क्षेत्रो के लोगो ने भाग लिया।

शाहपुर के मंदिरों में शिवरात्रि 

शिवरात्रि पर क्षेत्र के मंदिरों में पूजा-अर्चना के साथ हवन यज्ञ हुए। शिव मदिर तत्वानी में मेले का आयोजन किया गया और हजारो लोगो ने गर्म चश्मे के पानी मे स्‍नान किया। शिव मदिर वासा को गेंदे के फूलों से सजाया गया था। रात को इस मदिर में शिव नुआला तथा बुधवार को भडारे का आयोजन किया जाएगा। शिव मदिर चतरेर मे भी रात्रि को शिव नुआला होगा व बुधवार को भंडारा होगा। शिव मदिर झुलाड़ में रात्रि को शिव नुआला व 15 फरवरी को भडारा होगा। शिव मंदिर झुंगी में भी लोगों की भीड़ है। 14 फरवरी को यहां भडारा आयोजित होगा।

ज्वालामुखी में भी लगे भंडारे

पुराना बाजार स्थित शिवालय मे धवल कौशिक परिवार ने भंडारे का आयोजन किया। बस स्टैड में भी वार्षिक भडारे का आयोजन किया गया। मदिर मार्ग के दुकानदारों ने भी मिलकर शिवरात्रि पर भंडारे का आयोजन किया।

नगरोटा सूरियां मे भंडारे आज

 क्षेत्र के शिव मदिरों में महाशिवरात्रि धूमधाम से मनाई गई। डॉक्टर सुशील पठानिया व एक्स सर्विसमैन लीग के महासचिव दीनानाथ ने बताया कि नगरोटा सूरिया मुख्य बाजार शिव मदिर व तीन बोटू बाजार में स्थित शिव मदिर मे बुधवार को भंडारों का आयोजन किया जाएगा।

गगल मे नील कठ समिति ने लगाया भंडारा

शिवरात्रि पर गगल में नील कंठ समिति ने भंडारा लगाया। भंडारे से पूर्व भगवान शिव की पूजा की गई। काठगढ़ मदिर में अर्नी विश्वविद्यालय के सौजन्य से भडारे का आयोजन किया गया। इसमे सैकड़ों श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। अर्नी विश्वविद्यालय के चासलर नीरज गर्ग व अन्य स्टाफ ने इसमे सेवाएं दी।

 शाहपुर मे लगाया कढ़ी-चावल का भंडारा

मंगलवार को महाशिवरात्रि पर शाहपुर की खोका मार्केट ने कढ़ी-चावल का भडारा लगाया। मुख्य बाजार में लगाए गए इस भडारे में सैकड़ों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया।

योल के शिवालयों में लगाए भंडारे

शिवरात्रि पर बावड़ी मंदिर तंगरोटी में भंडारे का आयोजन किया गया। इसमे सैकड़ों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। योल बाजार बावड़ी शिव मदिर, टीका वणी में शीतला महादेव मदिर, नरवाणा के महादेव मदिर, टिकरी के गोकुल गिरि व मडौघ बल्ला तगरोटी शिवालय में भी शिवरात्रि पर कार्यक्रम हुए। टीका वणी के हरबंस लाल ने बताया कि यहां शिव पुराण कथा का आयोजन पिछले छह दिनों से किया जा रहा है। गोकुल गिरि प्रबंधन समिति के वीएन रैणा ने बताया कि 14 फरवरी को हवन यज्ञ व भजन कीर्तन आयोजित होगा।

यह भी पढ़ें:  काठगढ़ में स्वयंभू शिवलिंग के रूप में विराजमान शिव

बैजनाथ में शुरू हुआ राज्‍यस्‍तरीय शिवरात्रि महोत्सव