जागरण संवाददाता, धर्मशाला : हिमाचल के सीमावर्ती क्षेत्रों के लोग पंजाब में जाकर नशा तस्करी की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। वारदात को अंजाम देने के बाद घर में दुबककर बैठ जाते हैं। पंजाब में नशा तस्करी करने वाले 60 आरोपितों की सूची पठानकोट पुलिस ने कांगड़ा पुलिस को भेजी है। इन सभी को पंजाब पुलिस खोज रही है। भेजी गई सूची में सभी आरोपित कांगड़ा जिले के छन्नी बेली, इंदौरा, डमटाल तथा भदरोआ क्षेत्रों के हैं। ये क्षेत्र पंजाब से सटे हैं।

पुलिस अधीक्षक कांगड़ा विमुक्त रंजन ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि नशे के खिलाफ अभियान को तेज किया जा रहा है। जो सूची पहुंची है, उनके खिलाफ पंजाब के विभिन्न थानों के कई मामले दर्ज होने के साथ ही जिला कांगड़ा में भी हर आरोपित पर तस्करी के तीन से चार मामले दर्ज हैं। इनमें से अधिकतर को दो सप्ताह में गिरफ्तार कर पठानकोट पुलिस के सौंप दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि नए साल में अब तक 15 मामले मादक पदार्थो की तस्करी के दर्ज किए गए हैं व 15 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इन मामलों में अभी तक 26 ग्राम हेरोइन व 3.50 किलोग्राम चरस कांगड़ा पुलिस ने जब्त की है। विमुक्त रंजन ने बताया कि सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं कि स्कूलों के समीप दुकानों, ढाबों व रेस्तरां में दबिश दें।

-------------

एक आरोपित गिरफ्तार

पठानकोट से जारी सूची का पहला नशा तस्करी का आरोपित गोविदा निवासी छन्नी बेली को वीरवार को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि उसके पास पास कोई नशा पदार्थ बरामद नहीं हुआ है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस