संवाद सहयोगी, डलहौजी : एनएचपीसी के जम्मू व कश्मीर में स्थित 690 मेगावाट सलाल पावर स्टेशन भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय सचिव (विद्युत) संजीव नंदन सहाय ने दौरा किया। एनएचपीसी सलाल पावर स्टेशन के महाप्रबंधक (प्रभारी) नन्हें राम, सीआइएसएफ व सिविल प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा रामलीला ग्राउंड ज्योतिपुरम में अतिथियों का स्वागत किया गया। वहीं सीआइएसएफ के जवानों द्वारा सचिव (विद्युत) विद्युत मंत्रालय भारत सरकार को गार्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया।

इस मौके पर संजीव नंदन सहाय ने एनएचपीसी के सीएमडी, संयुक्त सचिव (हाइड्रो), प्रिसिपल सेक्रेटरी पीडीडी, जम्मू व कश्मीर और सलाल पावर स्टेशन के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ पावर हाउस सहित पावर स्टेशन के विभिन्न घटकों का दौरा किया। वहीं सहाय ने सलाल पावर हाउस की नवीनीकृत इकाइयों का उद्घाटन किया। वहीं, सलाल पावर स्टेशन प्रमुख नन्हें राम द्वारा पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से अतिथियों को पावर स्टेशन के संचालन और रखरखाव की गतिविधियों से अवगत करवाया। इस अवसर पर सचिव (विद्युत) ने एनएचपीसी के सीएमडी के कुशल नेतृत्व में सलाल पावर स्टेशन के प्रदर्शन में सुधार के लिए किए गए प्रयासों की सराहना की और एनएचपीसी के अति प्रतिष्ठित पावर स्टेशन में आने पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने पन बिजली परियोजनाओं के समयबद्ध पूरा करने पर जोर देते हुए कहा कि भारत सरकार ने मार्च 2019 में नई पन बिजली नीति के माध्यम से पनबिजली परियोजनाओं को बढ़ावा देने के लिए पहले ही पहल कर दी है। उन्होंने कहा कि भारतीय ग्रिड में नवीकरण ऊर्जा की उच्च पैठ को ध्यान में रखते हुए ग्रिड स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए एनएचपीसी द्वारा पंप भंडारण योजनाओं के विकास को आगे बढ़ाया जाए। इसके उपरांत सीएमडी एके सिंह सलाल पावर स्टेशन का दौरा करने के लिए सचिव(विद्युत)का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शित होता है कि भारत सरकार द्वारा जलविद्युत परियोजनाओं को समुचित महत्व दिया जा रहा है।

इस दौरान एनएचपीसी के सीएमडी एके सिंह, विद्युत मंत्रालय के संयुक्त सचिव (हाइड्रो) तन्मय कुमार, प्रिसिपल सेक्रेटरी पीडीडी जम्मू व कश्मीर रोहित कंसल व एनएचपीसी के मुख्य महाप्रबंधक क्षेत्रीय कार्यालय जम्मू राजन कुमार भी मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस