संवाद सहयोगी, सलूणी : जिला विधिक सेवा प्राधिकरण चंबा द्वारा ग्राम पंचायत डयूर में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर की अध्यक्षता अतिरिक्त मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी व सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पंकज गुप्ता ने की। पंकज गुप्ता ने कानूनी सहायता प्राप्त करने सहित विभिन्न कानूनी प्रावधानों की विस्तृत जानकारी प्रदान की।

उन्होंने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण असहाय, दिव्यांग, औरतों, बच्चों, औद्योगिक कामगार, मानसिक अस्वस्थ, हिरासत में रखे गए लोग, अनुसूचित जाति व जनजाति से संबंधित, एचआइवी एड्स से पीड़ित, सांप्रदायिक दंगे जातीय हिसा, बाढ़, भूकंप, सूखा, जाति अत्याचार, औद्योगिक संकट, मानव दूर व्यवहार, बेगार के शिकार गरीब व्यक्तियों को जिनकी समस्त साधनों से वार्षिक आय तीन लाख से कम हो, को कानूनी सहायता प्रदान करता है। उन्होंने बताया कि मुकदमों को तुरंत निपटाने के लिए प्राधिकरण राष्ट्रीय, राज्य, जिला तथा उपमंडल स्तर पर नियमित लोक अदालतों का आयोजन करता है। इसमें आम जनता को उनके कानूनी अधिकारों के बारे में भी बताता है। यदि उनके कानूनी अधिकारों का अतिक्रमण हो तो उनके समाधान के बारे में भी जानकारी दी जाती है। इस अवसर पर बीडीओ सलूणी सौरभ जसल ने लोगों को स्वच्छता तथा इससे जुडे़ विभिन्न पहलुओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि कूड़ा-कर्कट को खुले में नहीं फेंकना चाहिए। क्योंकि इससे पर्यावरण दूषित होता है। उन्होंने प्लास्टिक आधारित कूड़ा कर्कट के सही निष्पादन के लिए भी लोगों से आग्रह किया।

सौरभ जसल ने कहा कि स्वच्छता को अपनाकर ही विकास का पथ प्रशस्त होता है। अगर हमारा परिवेश स्वच्छ होगा तो कार्य करने की ऊर्जा और दक्षता भी बढ़ेगी। इस अवसर पर एसडीएम सलूणी विजय धीमान, पुलिस विभाग से प्रेम लता, अधिवक्ता शारिक अली शाह व हिमाक्षी गौतम ने विभिन्न कानूनी प्रावधानों तथा विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर प्रधान ग्राम पंचायत डयूर देश राज और क्षेत्र के गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप