संवाद सहयोगी, डलहौजी : पुरानी पेंशन बहाली को लेकर एक बार फिर एनपीएस संघ खंड बनीखेत ने हुंकार भरी है। संघ की बैठक रविवार को बनीखेत में हुई। बैठक का मुख्य उद्देश्य खंड बनीखेत में सभी सरकारी विभागों में न्यू पेंशन स्कीम की 100 प्रतिशत सदस्यता लाने का था। बैठक एनपीएस संघ की सदस्यता बढ़ाने के लिए सदस्यता अभियान चलाने पर विचार विमर्श किया गया। गौर हो कि 2003 के बाद के सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना से बाहर करके न्यू पेंशन स्कीम के अंतर्गत लाया गया है। जिसे कि एनपीएस संघ खंड बनीखेत ने कर्मचारियों के प्रति सरासर नाइंसाफी करार दिया है। संघ सदस्यों का कहना है कि न्यू पेंशन स्कीम में सरकारी कर्मचारी को अपने ही जमा पैसे के लिए तरसना पड़ता है। वहीं पेंशन के नाम पर कर्मचारियों को बहुत ही कम राशि पेंशन के रूप में दी जाती है । इस मौके पर पुरानी पेंशन योजना की बहाली के लिए खंड बनीखेत के द्वारा उठाए जाने वाले कदमों पर विस्तृत रुपरेखा तैयार की गई। न्यू पेंशन स्कीम संघ खंड बनीखेत के सचिव ओमप्रकाश आजाद ने बताया कि पुरानी पेंशन योजना की बहाली के लिए जल्द ही संघ द्वारा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को उपमंडलाधिकारी(नागरिक) डलहौजी के माध्यम से ज्ञापन सौंपा जाएगा। आजाद ने कहा कि संघ की मांग पर सरकार यदि कोई सकारात्मक निर्णय नहीं लेती है तो संघ धरना प्रदर्शन, आमरण अनशन जैसे कदम उठाने को मजबूर होगा। बैठक में हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ जिला चंबा के पूर्व जिला प्रधान हरिप्रसाद, लोक निर्माण विभाग सर्वेयर यूनियन के जिला प्रधान दीपक भगवालिया, एनपीएसईए खंड बनीखेत के कोषाध्यक्ष सुरेंद्र ठाकुर, शेर सिंह पटियाल, राकेश ठाकुर, पीटीए यूनियन बनीखेत के खंड प्रधान सुरेंद्र कुमार, हिमाचल प्रदेश विज्ञान अध्यापक संघ खंड बनीखेत के कोषाध्यक्ष राजेश कुमार, सुधीर बलौरिया, रवि ठाकुर, त्रिलोक सिंह सहित विभिन्न विभागों के कर्मचारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस