संवाद सूत्र, तेलका : हिमपुष्प वरिष्ठ माध्यमिक पब्लिक स्कूल तेलका में नशा मुक्त हिमाचल पर आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में विद्यार्थियों को नशे के खिलाफ शपथ दिलाई गई। कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे तेलका पुलिस चौकी के सह-प्रभारी अरविद टंडन ने बच्चों को नशे के दुष्प्रभाव बताए।

उन्होंने बताया कि तंबाकू, बीड़ी, सिगरेट व खैनी आदि नशों से मुंह व गले तथा, फेफड़ों का कैंसर होता है। शराब व गांजे, अफीम के सेवन से स्नायू व पाचन क्रिया पूरी तरह से प्रभावित होती है, जिससे व्यक्ति की सोचने समझने की शक्ति कम हो जाती है। ऐसे में स्वस्थ रहने लिए नशे से दूर रहना बहुत जरूरी है।

स्कूल के सह-प्रधानाचार्य ने छात्रों को नशे से दूर रहने की शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति नशे की लत से परेशान हो तो आइजीएमसी शिमला ले जाकर उसका उपचार करवाया जा सकता है। उन्होंने चाइल्ड हेल्पलाइन, गुड़िया हेल्पलाइन व अन्य जरूरी हेल्पलाइनों के बारे में जानकारी दी। इसके बाद छात्रों ने नारों तथा स्लोगनों की मदद स्कूल परिसर से तेलका बाजार तक एक रैली निकाली। इससे लोगों को नशे से दूर रहने का आग्रह किया। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि नशे से हमेशा दूर रहना चाहिए। नशा करने से न केवल शरीर, बल्कि मानसिक तौर पर भी इसके कई नुकसान हैं। इसलिए सभी नशे से दूर रहते हुए अन्य लोगों को भी जागरूक करें। इस मौके पर स्कूल के सह-प्रधानाचार्य विनीत शर्मा व अन्य स्टाफ उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस