संवाद सहयोगी, घुमारवीं : स्थानीय न्यायिक अदालत परिसर में शनिवार को सभी अदालतों में लोगों के विवादों को आपसी बातचीत और सौहार्दपूर्ण माहौल में निपटाने के मकसद से लोक अदालतों का आयोजन किया गया। इस दौरान अलग-अलग अदालतों में न्यायधीशों की अध्यक्षता में मामलों पर दोनों पक्षों को सामने बुलाकर सुनवाई हुई। लोक अदालतों के लिए प्रस्तावित सैकडों लंबित मामलों में से साठ से अधिक मामलों में दोनों पक्षों के संतोष के बाद इनका निपटारा कर दिया गया। यह जानकारी वरिष्ठ अधिवक्ता पवन शर्मा ने दी। पवन शर्मा ने बताया कि लोक अदालत घुमारवीं में एडिशनल एवं सेशन कोर्ट की अदालत में लगाए गए लोक अदालत में आए बीस मामलों में से सात सेटल कर दिए गए। इनमें कुल पांच लाख तीस हजार रुपये मुआवजे का भी प्रावधान किया गया। जबकि एसीजेएम की कोर्ट में कुल अठतालीस मामलों में से उन्नीस सेटल किए गए। कोर्ट नंबर दो में एक सौ ग्यारह मामलों में से उन्नतीस मामले निपटाए। कोर्ट नंबर तीन में आए हुए तिहत्तर मामलों में से सोलह का दोनों पक्षों की मौजूदगी में निपटारा किया गया। शर्मा ने बताया कि लोक अदालतों का उद्देश्य लंबित विवादों को सौहार्दपूर्ण माहौल में दोनों पक्षों की सहमति से भीतर की अदालत से हटकर निपटाना है।

Posted By: Jagran