संवाद सहयोगी, जेजवीं/बरठीं :

जेजवीं पंचायत क्षेत्र की खस्ताहाल मरेटा दुरघाट सड़क की सुध न लेने पर ग्रामीण लामबंद होने लगे हैं। पंचायत के लोगों ने एक ग्राम एवं सड़क सुधार समिति का गठन कर इसकी मरम्मत करने के लिए आवाज बुलंद कर दी है। प्रधान रीना पुंडीर ने बताया कि इस सड़क पर पंचायत ने पैसा खर्चा है। कुल सामग्री कितनी और कहां-कहां लगी है, इस बारे में उन्हें तुरंत तौर पर जानकारी नहीं है। उनके पास सो¨लग के पहले के और बाद में बारिश के कारण उखड़े हुए पत्थरों के साक्ष्य मौजूद हैं।

जेजवीं ग्राम एवं सडक सुधार समिति के नियुक्त प्रधान ज्ञान ¨सह धीमान ने समिति की बैठक रिटायर्ड हेडमास्टर सदाराम शर्मा की अध्यक्षता में हुई। इसमें उन्हें प्रधान की जिम्मेदारी देने के अलावा सुखराम को उपप्रधान, दलीप ¨सह को सचिव, चंद्रशेखर को सहसचिव, कुलदीप शर्मा, सरवण चौहान को सलाहकार, मिलखी राम को कोषाध्यक्ष, सह कोषाध्यक्ष छोटे लाल तथा ब्रहमानंद, देसराज, अमर ¨सह, गंगा राम, जगतंबा प्रसाद, सरोज कुमारी, बृज लाल, राकेश धीमान, संदेश शर्मा, केसरी देवी, शकुंतला शर्मा, पूनम शर्मा, जितेंद्र महाजन, अजय कुमार को सदस्य बनाया गया है। ज्ञान चंद धीमान ने बताया कि इन दिनों लंबे समय से इस सडक की हालत खस्ता है। उन्होंने कहा कि सड़क की खस्ताहालत पर जल्द ही समिति के लोग उपायुक्त से मिलकर मामले की जांच करवाने की मांग करेंगे।

Posted By: Jagran