जागरण संवाददाता, बिलासपुर : बिलासपुर जिला मुख्यालय पर दशकों पहले स्थापित किए गए साई खेल छात्रावास को खेलो इंडिया के तहत शामिल कर लिया गया है। इसे अब खेलो इंडिया स्पो‌र्ट्स सेंटर बना दिया गया है। खेलो इंडिया के तहत अब हॉस्टल में प्रशिक्षण से लेकर ढांचात्मक व्यवस्था के लिए सालाना करोड़ों रुपये के बजट की भी व्यवस्था रहेगी।

ताजा आदेश में केंद्र सरकार ने इस छात्रावास में बॉक्सिंग व कबड्डी की सीटों में तो बढ़ोतरी कर दी है, लेकिन वालीबॉल की निर्धारित 10 सीटें खत्म कर दी हैं। ऐसे में आने वाले दिनों में यहां वालीबॉल का प्रशिक्षण लेने के इच्छुक युवाओं के हाथ निराशा ही लगेगी। हॉस्टल के प्रभारी जयपाल चंदेल ने कहा कि अब इस सेंटर में भविष्य में वालीबॉल का प्रशिक्षण नहीं दिया जाएगा।

बिलासपुर जिला मुख्यालय पर वर्षो से साई हॉस्टल संचालित किया जा रहा है। यह नगर में मस्जिद रोड पर रौड़ा सेक्टर में है। इस सेंटर को केंद्र सरकार की ओर से खेलो इंडिया के तहत खेलो इंडिया स्टेट स्पो‌र्ट्स सेंटर के रूप में घोषित कर दिया गया है। चार दिन पहले ही इस संबंध में खेलो इंडिया की ओर से इस सेंटर को विकसित किए जाने संबंधी पत्र मिला है। वहीं, बॉक्सिंग में 15 सीटों और कबड्डी में 17 सीटों की बढ़ोतरी की गई है।

उधर, हॉस्टल प्रभारी जयपाल चंदेल ने बताया कि अब इसके विकसित होने की संभावनाएं बढ़ गई हैं। यहां पर ढांचागत सुविधाओं के लिए करोड़ों का सालाना बजट केंद्र की ओर से मिल सकता है, लेकिन अब इस हॉस्टल में वालीबॉल का प्रशिक्षण लेने वाले युवाओं के लिए तय 10 सीटें खत्म कर दी हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप