संवाद सहयोगी, घुमारवीं : घुमारवीं शहर के बीचोंबीच स्थित उप डाकघर घुमारवीं स्टाफ की कमी से सफेद हाथी बनकर रह गया है। इससे लोगों को छोटे से काम के लिए भी लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। यहां तक कि किसी ने यदि रजिस्ट्री करवानी हो या टिकट आदि खरीदने हो तो भी उन्हें लंबा इंतजार करना पड़ता है। कई बार तो लोग डाकघर के भीतर लंबी लाइनें लगी देख घर को लौटना ही उचित समझते हैं। रही सही कसर उस समय पूरी हो जाती है, जब डाकघर का सर्वर बार-बार डाउन हो जाता है। घुमारवीं शहर में स्थित उप डाकघर में न केवल शहर बल्कि ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी कार्य निपटाने के लिए आते हैं। इससे उन्हें काफी परेशानी झेलनी पड़ती है। प्रबंधक संजय भारद्वाज ने बताया कि घुमारवीं उप डाकघर में चार कर्मचारी व एक पद उप डाकघर प्रबंधक सहित कुल पांच पद हैं। इनमें से दो कर्मचारी अवकाश पर हैं। इस कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है। उन्होंने कहा कि बार-बार सर्वर डाउन होने से लोगों को और ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ती है। लोगों के काम समय पर कराने में कर्मचारियों को भी सर्वर डाउन होने के कारण कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। इस बारे में आलाधिकारियों को भी सूचित कर दिया गया है।

By Jagran