जागरण संवाददाता, यमुनानगर : स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल थापर ग्राउंड की ¨प्रसिपल को उनके ही स्कूल के 12वीं कक्षा के छात्र ने गोलियों से भून दिया। आरोपी अपने पिता की रिवाल्वर चोरी करके लाया था। जिससे उसने तीन गोलियां चलाई। ¨प्रसिपल का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने छात्र को लेट आने के लिए डांटा था। गोली मार कर भाग रहे छात्र को पकड़कर लोगों जमकर पीटने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। गंभीर रूप से घायल ¨प्रसिपल को उपचार के लिए नजदीक के स्वामी विवेकानंद मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल ले जाया गया जहां पर कुछ देर बाद ही उनकी मौत हो गई। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

छोटा मॉडल टाउन निवासी 46 वर्षीय रितू छाबड़ा थॉपर ग्राउंड स्थित स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल में ¨प्रसिपल थी। शनिवार सुबह जब वह अपने कार्यालय में बैठी थी तो आरोपी वहां आया। उसके साथ एक लड़का और था। कार्यालय में घुसते ही उसने रितू छाबड़ा पर एक के बाद एक तीन गोलियां चलाई। एक गोली ¨प्रसिपल के सीने में दिल के नजदीक, दूसरी हाथ के आरपार हो गई जबकि तीसरी गोली उनकी कनपटी को छूते हुए निकल गई। एक के बाद एक तीन धमाकों से स्कूल में अफरातफरी का माहौल हो गया।

गोली मारने के बाद भाग रहे आरोपी छात्र को स्कूल गेट पर ही शांति कालोनी के कर्ण चौहान व अन्य लोगों ने पकड़ लिया। उन्होंने सबसे पहले छात्र के हाथ से रिवाल्वर छीनी। जब उन्हें पता चला कि उसने ¨प्रसिपल को गोली मारी है तो लोगों ने उसकी पिटाई कर दी। सूचना पाते ही डीएसपी हेडक्वार्टर अनिल गुर्जर व सिटी यमुनानगर एसएचओ ओम प्रकाश स्कूल पहुंच गए।

उपचार के दौरान अस्पताल में मौत

जैसे ही ¨प्रसिपल कार्यालय मे गोलियां चली तो रिसेप्शन पर बैठे स्टॉफ ने जोर-जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। रिसेप्शन से घटना की एनाउंसमेंट की गई। सारा स्टॉफ दौड़ कर नीचे आ गया और घायल प्रिंसिपल को तुरंत नजदीक के ही स्वामी विवेकानंद मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल में लेकर गया। वहां उपचार के करीब एक घंटे बाद ही रितू छाबड़ा ने दम तोड़ दिया। घटना की सूचना पाते ही रितु छाबड़ा के पति राजेश छाबड़ा व अन्य रिश्तेदार मौके पर पहुंचे। ¨प्रसिपल की मौत का समाचार मिलते ही एक बार फिर डीएसपी अनिल हेडक्वार्टर अस्पताल में पहुंचे। अस्पताल के बाहर भीड़ को संभालने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

पैनल से कराया पोस्टमार्टम

पुलिस ने अस्पताल से शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस में भेज दिया। वहां पर डॉक्टरों के पैनल से शव का पोस्टमार्टम कराया गया। किसी तरह की अप्रिय घटना न हो इसलिए पोस्टमार्टम हाउस के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। डीएसपी देसराज, महिला थाना समेत चार थानों के एसएचओ, होम गार्ड के जवान बतौर सुरक्षा में लगाए गए थे। वहीं सीन ऑफ क्राइम की टीम ने भी मौके पर पहुंच कर जांच की।

हिरासत में ले लिया है : ओम प्रकाश

थाना शहर यमुनानगर के एसएचओ ओमप्रकाश ने बताया कि आरोपी छात्र को हिरासत में ले लिया है। वह बालिग है या नाबालिग इसकी पुष्टि करने में लगे हैं। प्राथमिक जांच में छात्र ने बताया कि रिवाल्वर वो घर से लाया था जो उसके पिता की है। वारदात के दौरान छात्र के साथ लड़का कौन था, इसकी तफ्तीश कर रहे हैं। हत्या के कारणों के पीछे फिलहाल यही पता लग सका है कि ¨प्रसिपल ने छात्र को देरी से आने के लिए डांट दिया था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप