जागरण संवाददाता, यमुनानगर : फेसबुक पर विज्ञापन देखकर प्राइवेट स्कूल की अध्यापिका ने बेटी को विदेश भेजने की बात की। आरोपित ने उन्हें विदेश तो नहीं भेजा उल्टा उनके 96 हजार रुपये हड़प लिए। पीड़िता ने इसकी शिकायत थाने में दी। सेक्टर-17 थाना पुलिस ने आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

शहर निवासी दीप ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी बेटी ने अभी 12वीं पास की है। वह अपनी बेटी को पढ़ाई के लिए कनाडा भेजना चाहती थी। एक दिन उसने फेसबुक पर कुछ विज्ञापन देखे। जिसमें लिखा था कि उनके द्वारा बिना किसी पैसे के बच्चों को पढ़ाई के लिए विदेश में भेजा जाता है। बेटी के भविष्य को देखते हुए उसने उन नंबरों पर संपर्क किया। फोन करने वाले ने उनसे कहा कि वह उसकी बेटी को विदेश भेज देंगे। इसके बदले में उनसे कोई रुपया नहीं लिया जाएगा। इसके लिए उसने संबंधित दस्तावेज उन्हें भेज दिए थे। कुछ दिन बाद आरोपित ने उसे फोन पर बताया कि उसकी बेटी का दाखिला उन्होंने विदेश में करवा दिया है। जो खर्च आया था वह उसने अपने खाते से कालेज में दे दिया है। आरोपित ने कहा कि वह उनके घर आ रहा है। उन्हें उसके साथ एंबेसी में जाना होगा। वह उसका इंतजार करते रहे, परंतु वह नहीं आया। बाद में उसका फोन आया कि बेटी को विदेश भेजने से पहले 96 हजार रुपये सरकारी खर्च जमा कराना होगा। इसके लिए उनके पास केवल एक घंटा है। यदि यह राशि उन्होंने जमा नहीं कराई तो बेटी विदेश नहीं जा पाएगी। वह उसकी बातों में आ गई और रुपये उसके कहे अनुसार जमा करवा दिए। परंतु वह अब तक उनसे नहीं मिला। उन्हें शक है कि आरोपित ने विदेश भेजने के नाम पर उनके साथ ठगी की है। सब इंस्पेक्टर चंद्रपाल ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। उसकी तलाश की जा रही है।

Edited By: Jagran