जागरण संवाददाता, यमुनानगर : फेसबुक के वॉल पर खालिस्तान संबंधी पोस्ट को व्हाट्सएप पर वायरल करने पर यमुनानगर पुलिस ने सत्ताधारी पार्टी के एक नेता को जानकारी उपलब्ध कराने के लिए थाने में बुलाया है। सोशल मीडिया पर इस पोस्ट के आने से पुलिस से लेकर खुफिया विभाग तक सभी अलर्ट हो गए हैं। इस मामले की सच्चाई क्या है ये पता लगाया जा रहा है।

मंगलवार को दोपहर बाद एक युवा नेता ने व्हाट्सएप ग्रुप में कुछ फेसबुक की फोटो शेयर की थी। पोस्ट की गई फोटो में एक समुदाय के युवक का फोटो था जिस पर युवक ने फेसबुक स्टेटस पर खालिस्तानी कमांडो फोर्स लिखा हुआ था। इस बारे में जब युवा नेता से बता की गई तो उसका कहना है उसने एक दिन फेसबुक पर एक आईडी देखी थी। उसने इस आइडी में अपत्तिजनक फोटो देखा। सच्चाई का पता लगाने के लिए उसने आइडी को फॉलो किया। इन फोटो को उसने व्हाट्सएप पर शेयर कर दिया। इसके अलावा वह कुछ नहीं जानता। जैसे ही खालिस्तान से संबंधित कमेंट व फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुए तो खुफिया तंत्र भी अलर्ट हो गया। गुप्तचर विभाग से लेकर आईबी तक सभी मामले की सच्चाई जानने में जुट गए। बताया जा रहा है कि देर शाम को थाना शहर यमुनानगर पुलिस ने युवा नेता को थाने में भी बुलाया। ताकि इस पूरे मामले की सच्चाई का पता लग सके।

मामले में छानबीन जारी है : डीएसपी

डीएसपी हेडक्वार्टर आदर्शदीप ¨सह से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने बताया कि युवा नेता को थाना शहर यमुनानगर में शिकायत देने के लिए बुलाया था। जिस युवक ने फेसबुक के वॉल पर पोस्ट की है उससे भी पूछताछ की जाएगी। पुलिस मामले को गंभीरता से लेकर जांच कर रही है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप