जागरण संवाददाता, यमुनानगर : ठेकेदार राजेंद्र पांचाल के बाद निगरानी कमेटी के सदस्यों ने प्यारा चौक से नेहरू पार्क रोड (वीआइपी रोड) के निर्माण पर सवाल उठाए हैं। आरोप है कि साइडों में निकासी के लिए डाले जा रहे पाइप मानकों के अनुरूप नहीं हैं। मेयर मदन चौहान, निगरानी कमेटी के सदस्य गिरीश पुरी, एसई महिपाल सिंह ने मुआयना किया।

निकासी के लिए पाइप लाइन बिछाई जा रही है। पाइप सीधे न डालकर जिग-जैग डाले गए हैं। इससे निकासी ठीक नहीं हो पाएगी। अधिकारियों ने ठेकेदार को आदेश दिए कि पाइप लाइन सीधी हो, जो पाइप डाले गए, उन्हें उखाड़कर दोबारा डाले। बनाई जाएगी सड़क

प्यारा चौक से नेहरू पार्क तक सवा किलोमीटर लंबी सड़क 71 लाख 39 हजार रुपये से बनाई जाएगी। दोनों तरफ के नाले बनेंगे। काफी प्रयास के बाद फंड पर सीएम हाउस से मोहर लगी। 20 फीट से बढ़ाकर चौड़ाई 25 फीट की जाएगी। पहले ये लग चुका आरोप

ठेकेदार राजेंद्र ने ठेकेदार और नगर निगम अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगाते हुए सीएम विडो पर शिकायत दी थी। आरोप है कि चौड़ाई बढ़ाने के लिए साइडों में टाइलें बिछाई हैं। काम के लिए करीब 72 लाख रुपये की राशि स्वीकृत हुई। तकनीकी शाखा ने ठेकेदारों के साथ मिलीभगत कर लागत 72 लाख से बढ़ाकर डेढ़ करोड़ रुपये कर दी। चार इंच मेटीरियल डाला जाना चाहिए था, जबकि 12 इंच डाला है। शिकायत मिलने के बाद दौरा किया। निकासी के लिए बिछी पाइप लाइन सीधी न होकर जिग-जैग स्थिति में मिले। सीधा किए जाने की आदेश दे दिए हैं, ताकि निकासी बाधित न हो।

महिपाल सिंह, एसई, नगर निगम।

निकासी व सड़क निर्माण को लेकर जो भी खामियां हैं, उनको समय रहते दुरुस्त किया जाए। काम जल्द से जल्द पूरा होना चाहिए। दुकानदार काफी परेशान हैं। निगम अधिकारी संज्ञान लें।

विनोद मरवाह, पार्षद, वार्ड-17 प्यारा चौक से लेकर नेहरू पार्क तक निकासी व चौड़ाई बढ़ाने का काम मानकों के अनुरूप नहीं हुआ है, जो खामियां हैं, उनको दूर किया जाए। विकास कार्यों में किसी स्तर पर कोताही बर्दाश्त नहीं होगी।

गिरीशपुरी, सदस्य, निगरानी कमेटी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस