जागरण संवाददाता, यमुनानगर : विधानसभा के लिए मतदान से दो दिन पहले पार्टी के पोस्टर लगाने पर हुए विवाद में घायल बिलासपुर के जोगी मोहल्ला निवासी नरेश कुमार की इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने केस में शामिल आरोपितों पर हत्या की धारा जोड़ दी है। जांच अधिकारी बलदेव सिंह ने बताया कि इस मामले में पहले दर्ज केस में उसके चाचा चमनलाल और नीरज को गिरफ्तार किया गया था। अब वे जमानत पर बाहर हैं।

19 अक्टूबर को नरेश कुमार गुगा माड़ी के पास कांग्रेस प्रत्याशी के पोस्टर लगा रहा था। इसका उसके चाचा चमनलाल ने विरोध किया था। पोस्टर लगाने को लेकर उनके बीच विवाद हो गया था। दरअसल, चमन लाल और नरेश कुमार दोनों अलग-अलग पार्टियों के समर्थक थे। उससे ही विवाद पनपा। आरोप है कि चमनलाल ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसे पीटा था। उसमें उसके सिर पर चोट लगी थी। उसका मुलाना के अस्पताल में इलाज चल रहा था। उस समय पुलिस ने नरेश के बयान पर चमनलाल, संजय और एक अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया था। तफ्तीश में सामने आया कि चमन और नीरज ने ही उसके साथ मारपीट की थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप