जागरण संवाददाता, यमुनानगर : सेवानिवृत्त शिक्षक छछरौली निवासी सरोज सैनी के खाते से 40 हजार रुपये ठगों ने निकाल लिए। डेबिट कार्ड उनके पास ही था। सुबह जब मोबाइल में मैसेज देखा, तो उन्हें ठगी का पता लगा। वे एसबीआइ बैंक की शाखा में पहुंचीं, तो बैंक कर्मियों ने उन पर ही किसी को पासवर्ड देने का आरोप लगा दिया। मामले में पुलिस ने शिकायत दर्ज कर ली है।

पुलिस को सरोज सैनी ने बताया कि मोबाइल पर 12 अक्टूबर की रात 11 बजकर 31 मिनट पर 20 हजार रुपये कटने का मैसेज आया। फिर रात को ही 12 बजकर तीन मिनट पर 20 हजार रुपये और कटने का मैसेज आया। सुबह उन्होंने मोबाइल पर मैसेज देखा। वे इस संबंध में बात करने बैंक में गई। बैंक में कर्मचारियों से इस बारे में पता किया, तो उन्होंने एटीएम का पासवर्ड किसी और को देने का आरोप लगा दिया। सरोज सैनी का कहना है कि बैंक में भी उनके पैसे सुरक्षित नहीं हैं। डेबिट कार्ड उनके पास है। इसका पासवर्ड उन्होंने कभी किसी को भी नहीं बताया। उनका आरोप है कि बैंककर्मियों की मिलीभगत से ही उनके पैसे निकले हैं। अब बैंक इस बारे में कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। उन्हें अपना पैसा वापस चाहिए।

पहले भी हो चुकी इस तरह से ठगी

इस तरह की ठगी कई लोगों से हो चुकी है। उनका डेबिट कार्ड जेब में होता है, लेकिन अकाउंट से पैसे कट जाते हैं या फिर ट्रांसफर कर लिए जाते हैं। 11 अक्टूबर को स्वास्थ्य विभाग से रिटायर्ड कर्मी महेंद्र कौर के एसबीआइ खाते से 40 हजार रुपये निकाले गए। एटीएम उनके पास था। गांव भूंडमाजरा के ब्रजेश कुमार के एसबीआइ खाते से 21 फरवरी को 93 हजार रुपये निकाल लिए गए। एटीएम उनके पास था। ये पैसे ओडिशा के सपुनी जीना नाम के व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर हुए। 25 सितंबर 2018 को अंबाला के सरिसगढ़ गांव के रामनारायण के खाते से 35 हजार रुपये निकल गए। वह भी छप्पर के एसबीआइ के डेबिट कार्ड से पैसे निकालने गए थे। उनके पैसे पंजाब के गांव बोहा की हरजिद्र कौर के खाते में ट्रांसफर किए गए। 23 दिसंबर, 2018 को गधौला के रिटायर फौजी जसपाल सिंह के खाते से 89 हजार रुपये निकाले गए। यह पैसे भी पटियाला के कुलवंत के खाते में ट्रांसफर हुए। इसी तरह से सेक्टर 17 के रिटायर फौजी से डीएवी कॉलेज के पास एसबीआइ एटीएम से ठगी हुई। भवानीपुर के प्रदीप कुमार के खाते से 79 हजार रुपये निकाले गए। पुलिसकर्मी निर्मल सिंह की पूरी सेलरी 47 हजार रुपये निकाल लिए गए। एटीएम उनके पास ही था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप