जेएनएन, छछरौली (यमुनानगर)। कार में युवती ने दूल्हेे से मांग भरवाई और फिर पति के साथ ससुराल के लिए रवाना हो गई। रास्ते में अचानक नई नवेली दुल्हन ने कहा कि उसे उल्टी आ रही है। वह कुछ दूर गई और फिर फरार हो गई और दूल्हा ठगा रह गया। मामला पुलिस में पहुंचा। मामले में पुलिस ने सहारनपुर के देवबंद के विक्रम से शादी के नाम पर ठगी करने के आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

बिचौलिए कोटड़ा काहन सिंह के प्रीतम और जय सिंह को न्यायिक हिरासत में भेजा है, जबकि देहरादून के ककरानी की बेबी उर्फ ममता को दो दिन की रिमांड पर लिया है। पूछताछ में पता लगा है कि बेबी ने कई अन्य युवकों को भी इसी प्रकार से ठगा है।

विक्रम ने बताया था वह दिव्यांग है और दर्जी की दुकान करता है। प्रीतम उसकी मौसी का जानकारी में है। मौसी ने प्रीतम से कहा था कि उसके भांजे का कहीं से रिश्ता नहीं हो रहा है। जिस पर प्रीतम ने एक लाख रुपये रिश्ता तय कराने के मांगे। बात तय हो जाने पर 20 अप्रैल को वे परिवार समेत छछरौली पहुंच गए। यहां उन्हें बताया गया कि लड़की बेबी हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब से है। आरोपितों ने उससे एक लाख रुपये ले लिए।

कार में ही हुई थी दुल्हन मांग भराई की रस्म

पांवटा साहिब में विक्रम को कार से नीचे नहीं उतरने दिया। बेबी को भी कार में ही बुलाकर मांग भराई की रस्म कराई। विक्रम की बहन ने दुल्हन को कानों की बालियां और चांदी का हार दिया। यहां से घर के लिए चल दिए। रास्ते में दुकान पर चाय पीने को रुक गए। तभी दुल्हन कहने लगी कि उसे उल्टी आ रही है। उल्टी करने के लिए वह दूसरी तरफ चली गई थी। यहां से वह फरार हो गई थी। इसके बाद से ही विक्रम इन आरोपितों के खिलाफ शिकायत लेकर घूम रहा था। 25 अगस्त को पुलिस ने केस दर्ज किया था।

आरोपित बेबी से पूछताछ जारी

थाना छछरौली प्रभारी मुकेश कुमार ने बताया कि धोखाधड़ी के तीनों आरोपित गिरफ्तार कर लिए गए हैं। आरोपित बेबी से अभी पूछताछ की जा रही है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप