मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, खिजराबाद : सिंचाई विभाग की ओर से सोम व पथराला नदी पर बनाए जा रहे अस्थाई बाढ़ राहत कार्याें में धांधली का आरोप है। ग्रामीणों के मुताबिक वायर क्रेट में हल्के व कम तारों वाले हैं। ग्रामीणों ने इसकी जांच स्टेट ब्यूरो से कराने की मांग की है।

सोम और पथराला नदी पर गांव दौलतपुर, जाटोंवाला, मुकारवपुर, टिब्बी, रणजीतपुर, गाडवाली, शहजादवाला, मेघुवाला व बरोली आदि में अस्थाई बाढ़ राहत कार्य करवाए जा रहे हैं। ग्रामीण दिलशाद, फकीरचंद, रामेश्वर, रामसरण, अनिल और पंकज ने बताया कि विभाग जाल में बहुत कम तार लगा रहे हैं। वायर क्रेट व स्टोन स्टड का कार्य करने वालों के मुताबिक एक क्रेट का वजन लगभग 28 किलो होना चाहिए, लेकिन 15 से 18 किलो वजन वाले लगाए जा रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप