जागरण संवाददाता, सोनीपत : सुरेंद्र दहिया एक बार फिर टीकाराम शिक्षण संस्था के प्रधान बने हैं। शहर की 67 साल पुरानी संस्था का रविवार को चुनाव हुआ, जिसमें सुरेंद्र दहिया प्रधान चुने गए हैं। चुनाव पूरी तरह से एकतरफा रहा। कुल 105 कोलेजियम में से ओमप्रकाश दहिया व सुरेंद्र सिंह दहिया पैनल ने 100 कोलेजियम पर जीत की पताका फहराई। इससे भी बड़ी बात यह है कि 88 कोलेजियम ऐसे रहे, जिन पर इस पैनल के प्रत्याशी निर्विरोध चुन लिए गए। अगस्त 2018 के बाद से अब तक संस्था प्रशासक के हवाले थी।

वर्ष 1954 में स्थापित हुई टीकाराम शिक्षण संस्था के तहत अब शहर के टीकाराम ग‌र्ल्स पीजी कालेज, सीआरए कालेज, टीकाराम शिक्षण महाविद्यालय, टीकाराम माडल स्कूल, टीकाराम ग‌र्ल्स स्कूल व सीआरजेड सीनियर सेकेंडरी समेत छह शिक्षण संस्थान संचालित हैं, जिनमें करीब 10 हजार विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण करते हैं। अगस्त 2018 में संस्था का कार्यकाल पूरा होने के बाद से अब तक यहां पर अलग-अलग प्रशासक नियुक्त रहे हैं। पहले कानूनी अड़चन व बाद में कोरोना के चलते चुनाव में देरी होती रही। अब छतरी के चुनाव चिह्न पर चुनाव लड़कर एकतरफा जीत हासिल कर ओमप्रकाश दहिया व सुरेंद्र सिंह दहिया पैनल ने 105 में से 100 कोलेजियम पर कब्जा जमाया है। पहले ही 88 कोलेजियम पर निर्विरोध चुनाव हो चुका था, जबकि 12 कालेजियम पर रविवार चुनाव हुआ। चुनाव जीतने पर सुरेंद्र दहिया ने कहा कि संस्था तकनीकी रूप से सु²ढ़ करने की दिशा में काम करेंगे, ताकि जिले के विद्यार्थियों को तकनीकी शिक्षा के लिए दूर-दराज के क्षेत्रों को रुख न करना पड़े।

Edited By: Jagran