Move to Jagran APP

Sonipat: संदिग्ध परिस्थिति में मिला युवक का शव, पैर को जानवरों ने खाया; नहीं हो सकी पहचान

गोहाना क्षेत्र के गांव भंडेरी में संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की मौत हो गई। उसका शव खेत में मिला है जिसे जंगली जानवरों ने नोंच रखा है। ग्रामीण खेतों की तरफ घूमने गए तो युवक का शव पड़ा मिला। जिस पर ग्रामीणों ने पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी। जंगली जानवरों ने युवक के पैर को घुटने तक पूरी तरह से खा रखा था।

By Paramjeet Singh Edited By: Geetarjun Sun, 16 Jun 2024 07:17 PM (IST)
पुलिस की टीम घटनास्थल पर दस्तावेज तैयार करते हुए।

जागरण संवाददाता, सोनीपत। गोहाना क्षेत्र के गांव भंडेरी में संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की मौत हो गई। उसका शव खेत में मिला है, जिसे जंगली जानवरों ने नोंच रखा है। ग्रामीण खेतों की तरफ घूमने गए तो युवक का शव पड़ा मिला। जिस पर ग्रामीणों ने पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी।

जंगली जानवरों ने युवक के पैर को घुटने तक पूरी तरह से खा रखा था। बरोदा थाना की पुलिस और एफएसएल की टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और शव को कब्जे में लिया।

72 घंटे बाद भी पहचान नहीं

पुलिस शव की शिनाख्त के लिए आसपास के लोगों को दिखाया, लेकिन उसकी पहचान नहीं हो पाई। इसके बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए बीपीएस राजकीय महिला मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में रखवाया गया। 72 घंटे तक पहचान नहीं होती है तो शव का पोस्टमार्टम के बाद दाह संस्कार करवा दिया जाएगा।

खेत में पड़ा था शव

गांव भंडेरी के ग्रामीण शनिवार की देर शाम को गोहाना-महम रोड के साथ पेट्रोल की तरफ घूमने गए थे। वहां रोड से लगभग 10 मीटर दूर खेत में एक युवक का शव पड़ा देखा। ग्रामीण नजदीक गए तो युवक के शव को जंगली जानवरों द्वारा नोंचा गया था।

उसके एक पैर को घुटने तक खा रखा था। ग्रामीणों की मौके पर भीड़ लग गई। गांव का चौकीदार भी मौके पर पहुंचा और उसने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और एफएसएल की टीम को भी मौके पर बुलाया।

उप निरीक्षक जगबीर सिंह ने बताया कि मृतक की शिनाख्त नहीं हो पाई है। मृतक की उम्र लगभग 35 वर्ष है। जंगली जानवरों द्वारा उसके एक पैर को घुटने तक खा रखा था। शव को नागरिक अस्पताल गोहाना पहुंचाया गया।

यहां के शवगृह में फ्रीजर न होने के चलते शव को बीपीएस राजकीय महिला मेडिकल कालेज के अस्पताल के लिए रेफर किया गया। मृतक की पहचान के लिए आसपास के थानों और गांवों में सूचना दी गई।