Move to Jagran APP

सावधान! शेयर बाजार में पैसा लगाकर दोगुना कमाने वाले गिरोह के चंगुल में न फंसे, एक शख्स ने गंवा दिए 73 लाख रुपये

गोहाना में महम रोड के रहने वाले सौरभ ने साइबर थाना पुलिस को बताया कि मई में उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो देखा था। जिसमें शेयर बाजार मे पैसा कमाने का लालच दिया गया था। उन्हें लालच देकर व्हाट्सएप पर एपीपी ग्रुप ज्वॉइन करा दिया। उसके बाद कंपनी के वॉट्सऐप ग्रुप में जोड़ दिया। वह शेयर मार्केट को लेकर जानकारी देते रहे।

By Deepak Gijwal Edited By: Sonu Suman Sun, 16 Jun 2024 06:12 PM (IST)
शेयर बाजार में पैसा लगाकर दोगुना कमाने वाले गिरोह के चंगुल में न फंसे

जागरण संवाददाता, सोनीपत। शेयर बाजार में रुपये कमाने का लालच देकर साइबर ठगों ने एक युवक से 73.40 लाख रुपये की ठगी कर ली। दोगुने रुपये का लालच देकर उसे लोन भी दिया गया। जब वह अपने रुपए निकालने लगा तो उसके आगे शर्त रखी गई। इसके बाद उसे जाल में फंसा लिया गया। पुलिस ने सोनीपत साइबर थाना में केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

गोहाना में महम रोड के रहने वाले सौरभ ने साइबर थाना पुलिस को बताया कि मई में उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो देखा था। जिसमें शेयर बाजार मे पैसा कमाने का लालच दिया गया था। उन्हें लालच देकर वॉट्सऐप पर एपीपी ग्रुप ज्वॉइन करा दिया। उसके बाद कंपनी के वॉट्सऐप ग्रुप में जोड़ दिया। वह शेयर मार्केट को लेकर जानकारी देते रहे।

एक दिन मैसेज भेजकर कहा कि उनके यहां अपना अकाउंट खुलवाए। जिस पर उन्होंने अपना पेन नंबर भेजकर केवाईसी करवा दी। उन्होंने उसे फंसाने के लिए 15 मई को उन्हें 10 हजार रुपये का बोनस दिया। वह उनके खोले गए खाते में दिखाई दे रहा था।

युवक ने दो बार लोन भी लिया

सौरभ का आरोप है कि उसके बाद उन्होंने एक हजार रुपये प्रतिमाह के शेयर बाजार को लेकर जानकारी देने की बात की। उनसे संपर्क करने वाले ने अपनी पहचान सीआईओ जयंत परिमल के रूप में दी। उसने उन्हें रुपये निवेश करने को कहकर उकसाया।

उन्हें कस्टमर केयर नंबर के बारे में भी बताया गया। जिस पर उन्होंने 22 मई को 50 हजार रुपये एक बैंक खाते मे डलवाए। फिर लाभ दिखाने के बाद आइपीओ में रुपये डबल होने का लालच देकर उन्हें लोन दिया गया। वह जब रुपये निकलवाने लगे तो सिक्योरिटी जमा करवाने की शर्त रखी गई। उन्हें 28 लाख और 19 लाख रुपये का लोन भी दिया गया। यह राशि एप पर दिखाई दे रही थी।

अलग-अलग खातों में 26 बार डलवाएं रुपये

उसके बाद उन्हें निवेश करने को कहा गया। वह उनकी बातों में उलझ गए। उनसे 22 मई से 10 जून तक 26 बार में अलग-अलग बैंक खातों में 73.40 लाख रुपये डलवाए गए। उन्हें बताया गया कि उनका जीएफएलएस नाम की नामी कंपनी से समझौता है। ऐसे में नुकसान नहीं होगा। अब उन्हें पता लगा कि ठगों ने फर्जी कागजात, लिंक व वेबसाइट के आधार पर खुलवाए गए खातों में धोखाधड़ी से डलवाए हैं। साइबर थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

ये भी पढ़ें- सोनीपत में बुजुर्ग महिला को ट्रैक्टर से कुचलकर मार डाला, बेटे के घर नहीं लौटने पर खेत पर देखने गई थी मां