संवाद सहयोगी, खरखौदा : बिजली निगम की तरफ से उन उपभोक्ताओं को सरचार्ज से बचने का एक मौका दिया गया है, जिन्होंने खेती व ट्यूबवेल के लिए कनेक्शन लिया हुआ है और वह 31 मार्च, 2019 के डिफाल्टर हैं। ऐसे उपभोक्ता सिर्फ अपने बिल की मूल राशि 31 दिसंबर तक जमा करवा सकते हैं, अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो एक जनवरी से उनके कनेक्शन काटना निगम शुरू कर देगा। बिजली निगम के एसडीओ आशीष दहिया का कहना है कि निगम की तरफ से ऐसे बकाएदार उपभोक्ताओं का डाटा तैयार कर लिया गया है और उन्हें 31 दिसंबर तक का समय बिल की अदायगी के लिए दिया जा रहा है। ये उपभोक्ता 31 मार्च, 2019 को डिफाल्टर घोषित किए गए थे। उन्होंने बताया कि ट्यूबवेल कनेक्शन लेने वाले इन उपभोक्ताओं को बिल न भरने की सूरत में इसी वर्ष 31 मार्च को डिफाल्टर घोषित किया और बिल पर सरचार्ज भी लगाया गया। ये उपभोक्ता अगर 31 दिसंबर तक बिल की अदायगी करते हैं तो उन्हें सिर्फ बिल की बकाया राशि ही भरनी होगी और उसे सरचार्ज से छूट प्रदान की जाएगी। तय सीमा पर भी बिल न भरने वालों के एक जनवरी से ही कनेक्शन काटने की कार्रवाई को शुरू कर दिया जाएगा।

एसडीओ का कहना है कि खरखौदा खंड में कनेक्शन धारकों की कुल संख्या 1370 है, जिसमें से निगम के रिकार्ड के अनुसार 342 उपभोक्ताओं को बिल न भरने के चलते डिफाल्टर घोषित किया जा चुका है। इन 342 उपभोक्ताओं पर निगम का 14 लाख 50 हजार रुपये बकाया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप