सिरसा/गुरुग्राम, जेएनएन। पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला की पत्नी स्नेहलता चौटाला साेमवार शाम पंचतत्‍व में विलीन हो गईं। स्‍नेहलता परिवार को फिर एक करने का अधूरा सपना लिए अलविदा हाे गईं। 81 साल की स्‍नेहलता दोनों बेटों अजय सिंह चौटाला और अभय सिंह चौटाला के परिवारों में अलगाव से बेहद दुखी थीं। उन्‍होंने रविवार रात 8:25 बजे गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में अंतिम सांस ली थी। ज्‍येष्‍ठ पुत्र ने चिता को मुखाग्नि दी। उनका अंतिम संस्‍कार तेजाखेड़ा में किया गया। उनकी अंतिम यात्रा में परिजनों के साथ हजारों की संख्‍या में लोग शामिल हुए।

पत्‍नी के अंतिम संस्‍कार के लिए पैरोल पर पहुंचे ओमप्रकाश चौटाला, पुत्र अजय चौटाला हेलीकाप्‍टर से पहुंचे

अजय चौटाला ने मां को शाम 6.35 बजे मां की चिता को मुखाग्नि दी। इससे पहले अजय चौटाला, अभय चौटाला और दुष्‍यंत चौटाला ने स्‍नेहलता चौटाला की अर्थी को कंधा दिया। अंतिम संस्‍कार तेजाखेड़ा स्थित श्मशान भूमि में किया गया। उनकी अर्थी को दिग्विजय चौटाला, रवि चौटाला, कर्ण चौटाला और अर्जुन चौटाला ने भी कंधा दिया। अंतिम संस्‍कार के समय दोनों बेटों ने विधि व रीति निभाई। इस दौरान अजय और अभय चौटाला बहुत भावुक थे।

मां की चिता को मुखाग्नि देते अजय चौटाला।

ओपी चौटाला को दो सप्ताह की मिली पैरोल, विमान से पहुंचे अजय

ओमप्रकाश चौटाला दो सप्ताह की पैरोल पर तेजाखेड़ा फार्म हाउस पहुंचे। वहीं अजय सिंह चौटाला अपने बेटे दुष्‍यंत चौटाला के साथ दिल्ली से विशेष विमान से सिरसा पहुंचे और इसके बाद तेजाखेड़ा आए।

पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल सहित विभिन्‍न दलों के नेता तेजाखेड़ा पहुंचे

पंजाब के पूर्व मुख्‍यमंत्री प्रकाश सिंह बादल भी तेजाखेड़ा पहुंचे। तेजा खेड़ा फार्म हाउस पर प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष अशोक अरोड़ा, इनेलो नेता रामपाल माजरा व अशोक अरोड़ा और हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा  भी तेजा खेड़ा पहुंचे। नेताओं ने चौटाला परिवार को ढ़ांढस बधाया और स्‍नेहलता चौटाला के निधन पर शोक जताया। काफी संख्‍या में इनेलो सहित विभिन्‍न दलों के नेता तेजाखेड़ा पहुंचे और स्‍नेहलता चौटाला के निधन पर शोक जताया। परिजनों का बुरा हाल दिखा और पोते दिग्विजय चौटाला (अजय चौटाला के पुत्र) और अर्जुन चौटाला (अभय चौटाला के पुत्र) सहित अन्‍य परिजन काफी मर्माहत दिखे।


दादी के निधन पर तेजाखेड़ा में मर्माहत पोते दिग्विजय चौटाला और अर्जुन चौटाला।

बता दें कि स्‍नेहलता को उन्हें पेट में संक्रमण और सांस लेने में परेशानी के बाद शनिवार रात को अस्पताल में दाखिल कराया गया था। स्नेहलता को उनके पौत्र करण चौटाला (अभय चौटाला के पुत्र) अस्पताल लेकर आए थे। रविवार सुबह उनकी हालत अधिक खराब हुई तो उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया।

मां की अ‍र्थी को कंधा देते अभय चौटाला।

पेट में संक्रमण और सांस लेने में परेशानी के बाद शनिवार रात को लाया गया था अस्पताल

शाम करीब साढ़े चार बजे उनके छोटे पुत्र इनेलो नेता अभय चौटाला अस्पताल पहुंचे। कुछ देर बाद भी स्नेहलता के बड़े बेटे अजय चौटाला के पुत्र दिग्विजय चौटाला (जननायक जनता पार्टी के नेता) अस्पताल पहुंचे। सभी ने डॉक्टरों से स्वास्थ्य संबंधित भी ली। उनका इलाज वरिष्ठ फिजिशियन डॉक्टर सुशीला कटारिया की देख-रेख में चल रहा था। इससे पहले भी सांस लेने की परेशानी के कारण स्नेहलता को कई बार मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया जाता रहा है, लेकिन दो से चार दिन में वह ठीक होकर घर चली जाती थीं।

तेजाखेड़ा पहुंचे पूर्व मुख्‍यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला व साथ में पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल।

बता दें कि पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला था उनके बड़े बेटे अभय चौटाला जेबीटी शिक्षक भर्ती घोटाले में तिहाड़ जेल में सजा काट रहे हैं। अभय व उनके भतीजे दुष्यंत चौटाला के बीच पार्टी को लेकर लड़ाई शुरू हुई थी तो उस समय भी स्नेहलता चौटाला मेदांता में दाखिल थी। अस्पताल से ही उनका एक विडियो वायरल हुआ था जिसमें वह दुष्यंत व दिग्विजय पर कई आरोप लगाते नजर आईं थीं।

तेजाखेड़ा में दोपहर तीन बजे होगा अंतिम संस्कार

स्नेहलता चौटाला के पार्थिव शरीर को सोमवार सुबह तेजाखेड़ा फार्म हाउस पर दर्शनों के लिए रखा जाएगा। दोपहर बाद तीन बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री चौ. ओमप्रकाश चौटाला की पेरोल के लिए भी परिवार प्रयास कर रहा है। इस संबंध में जेल प्रशासन को सूचना भेज दी गई है।

चाहती थीं फिर एक हो जाए परिवार

स्नेहलता चौटाला परिवार में आए राजनीतिक बिखराव से वह दुखी रहती थीं। चौ. देवीलाल के परिवार में राजनीतिक मतभेद हुए तब भी उन्होंने कोई टिप्पणी नहीं की। लेकिन, अपने दोनों बेटों अजय सिंह चौटाला और अभय सिंह चौटाला के अलगाव के बाद उनके चेहरे पर चिंता दिखीं। वह इस बिखराव को अच्छा न मानकर परिवार के एकजुट होने पर जोर देती रहीं। अस्पताल में भर्ती होने के बाद उनका एक वीडियो जरूर आया जिसमें उन्होंने अपनी मन की पीड़ा को जुबान पर सुना दिया।

सुचित्रा की मां कहकर पुकारते रहे ओमप्रकाश चौटाला

पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला पत्नी स्नेहलता उर्फ केसर को नाम से नहीं पुकारते थे। वह उनको सुचित्रा या अजय की मां कहकर संबोधित करते थे। सुचित्रा उनकी सबसे बड़ी बेटी का नाम है जो मुंढाल में विवाहित है और इन दिनों दिल्ली में रहती हैं। ओमप्रकाश चौटाला को उनके हाथ का सूजी का हलवा बेहद पसंद रहा।

सभी दलों के नेताओं ने दी श्रद्धांजलि
इससे पहले तेजाखेड़ा फार्म हाउस पर चौ. रणजीत सिंह, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर, शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा, इनेलो के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा, रामपाल माजरा, जजपा के प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह, पूर्व मंत्री एमएल रंगा, सुभाष रंगा, भागीराम, विधायक रामचंद कंबोज, आदित्य देवीलाल, डा. केवी सिंह, मक्खनलाल सिंगला, पूर्व विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया, सुभाष गोयल सहित कई राजनीतिक दलों के नेताओं ने दिवंगत स्नेहलता को श्रद्धासुमन अर्पित किए।

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Kumar Jha