संवाद सहयोगी, डबवाली : राज्य सूचना आयोग ने डबवाली के बीडीपीओ रमेश कुमार, ग्राम सचिव जगदीश लाल तथा गांव अहमदपुर दारेवाला की निवर्तमान सरपंच शारदा देवी पर जुर्माना लगाया है। बीडीपीओ को दस हजार, जबकि अन्य दो को 7500-7500 रुपये की जुर्माना राशि आयोग के लेखा अधिकारी के खाते में जमा करवानी होगी। बीडीपीओ को 30 सितंबर तक आयोग को रिपोर्ट पेश करनी होगी। गांव अहमदपुर दारेवाला निवासी दलवीर सिंह की शिकायत पर आयोग के कमिश्नर जय सिंह बिश्नोई ने उपरोक्त आदेश जारी किए है। 10 जून 2021 को मामले की सुनवाई हुई थी। जुलाई के अंतिम सप्ताह में संबंधित को आदेशों की पालना का नोटिस जारी हुआ है। आयोग ने सिरसा जिला के उपायुक्त को आदेश लागू करवाने के लिए कहा है।

----

यह है मामला

20 नवंबर 2018 में दलवीर ने आरटीआइ के जरिए पंचायत के कार्यों की रिपोर्ट मांगी थी। उसे जानकारी नहीं मिली तो उसने अपील दाखिल कर दी। द्वितीय अपील पर 17 अगस्त 2020, 20 सितंबर 2020, 4 नवंबर 2020, 18 जनवरी 2021, 23 फरवरी 2021 को सुनवाई हुई। दलवीर के मुताबिक उसे आधी-अधूरी जानकारी उपलब्ध करवाई गई थी। वो भी वेरिफाई नहीं की गई थी। आयोग ने पहले आदेश में बीडीपीओ को फटकर लगाते हुए आरटीआइ कार्यकर्ता को पांच हजार रुपये मुआवजा राशि दिलाई थी। गत 10 जून को सुनवाई करते हुए आयोग ने बीडीपीओ, ग्राम सचिव तथा निवर्तमान सरपंच शारदा देवी को दोषी ठहराते हुए जुर्माना लगाया है।

----

अप्रैल माह में आरटीआइ का जवाब दलवीर को दे दिया था। आयोग के आदेश पर उसे मुआवजा भी दे दिया था। उक्त मामले में आयोग ने उन पर 10 हजार रुपये की पेनल्टी लगाई है। मैंने 27 जुलाई को साक्ष्य समेत आयोग में जवाब दिया है। उनकी कोई गलती नहीं है।

- रमेश कुमार, बीडीपीओ, डबवाली।

----

आयोग के आदेश पर मुझे मुआवजा राशि मिली है। आरटीआइ के तहत पूरी जानकारी आज तक उपलब्ध नहीं हुई है। 10 जून को हुई सुनवाई के आदेश अब जारी हुए है। आयोग ने विकास एवं पंचायत विभाग हरियाणा के निदेशक तथा जिला उपायुक्त को पत्र जारी करके उसे आरटीआइ के तहत जानकारी देने के लिए कहा है।

-दलवीर सिंह, आरटीआइ कार्यकर्ता, गांव अहमदपुर दारेवाला।

Edited By: Jagran