जागरण संवाददाता, सिरसा : आरएसडी स्कूल में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की दसवीं व बारहवीं कक्षा की परीक्षा को लेकर परीक्षा अधीक्षकों को परीक्षा सामग्री वितरित की गई। बोर्ड की दसवीं व बारहवीं कक्षा की परीक्षा के लिए 92 परीक्षा केंद्र बनाए गये हैं। जिनमें 183251 परीक्षा परीक्षा देंगे। परीक्षा को लेकर 14 उड़नदस्ते परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण करेंगे। बोर्ड की परीक्षा 3 मार्च से शुरू होगी। जिला उपायुक्त रमेश कुमार बिढ़ान ने नकल रहित परीक्षा करवाने के लिए निर्देश जारी किए।

बोर्ड की परीक्षा को लेकर 92 परीक्षा केंद्र बनाए गये हैं। जिनमें 7 परीक्षा केंद्र अति संवेदनशील व संवेदनशील हैं। जिन पर उड़नदस्तों की विशेष नजर रहेगी। अति संवेदशील परीक्षा केंद्र राजकीय स्कूल नेजाडेला कलां व एमसी कॉलोनी स्थित स्वामी दयानंद हाई स्कूल, संवेदशील परीक्षा केंद्र में अग्रवाल कालोनी स्थित सागरमणि स्कूल, नेहरू पार्क स्थित आरकेपी स्कूल, न्यू सतलुज स्कूल, राजकीय स्कूल दादू, राजकीय स्कूल ओढां हैं।

ड्यूटी पर तैनात अध्यापकों की होगी इंट्री

जिला प्रशासन ने बोर्ड की परीक्षा को लेकर धारा 144 लागू कर दी है। जिसके तहत परीक्षा केंद्रों पर किसी भी व्यक्ति को अंदर नहीं जाने दिया जाएगा। परीक्षा केंद्रों पर पुलिस बल तैनात किया जाएगा। परीक्षा केंद्र में ड्यूटी पर तैनात अध्यापकों को ही परीक्षा केंद्र में जाने दिया जाएगा। बोर्ड की परीक्षा को लेकर जिला उपायुक्त, एसडीएम सिरसा, एसडीएम डबवाली, एसडीएम ऐलनाबाद, एसडीएम कालांवाली, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, बोर्ड के विशेष उड़नदस्ते समय-समय पर निरीक्षण करेंगे। 10 अतिथि अध्यापकों की ड्यूटी काटी

बोर्ड ने दसवीं व बारहवीं कक्षा की परीक्षा में 10 अतिथि अध्यापकों को परीक्षा अधीक्षक की ड्यूटी लगाई गई। जिला शिक्षा अधिकारी राजेश चौहान के संज्ञान में ड्यूटी के बारे में जानकारी मिली। जिस पर जिला शिक्षा अधिकारी ने गेस्ट अध्यापकों की ड्यूटी काट दी। गेस्ट अध्यापकों की जगह पर नियमित अध्यापकों की ड्यूटी लगाई गई। नकल रहित हो परीक्षा : उपायुक्त

बोर्ड की परीक्षा को लेकर परीक्षा अधीक्षकों की जिला उपायुक्त रमेश कुमार बिढ़ान ने बैठक ली। उन्होंने कहा कि बोर्ड की परीक्षा में किसी भी प्रकार से नकल नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि परीक्षा के दौरान ड्यूटी पर तैनात अध्यापक कोई लापरवाही करता है। उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सिरसा जिला बोर्ड के परीक्षा परिणाम में नंबर वन होना चाहिए। जिला शिक्षा अधिकारी राजेश चौहान ने कहा कि बोर्ड की परीक्षा में विशेष सावधानी बरतें। परीक्षा पर जिन अध्यापकों की ड्यूटी लगाई गई है। वह समय पर परीक्षा केंद्रों पर पहुंचे। जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी आत्मप्रकाश मेहरा ने कहा कि परीक्षा को लेकर समय-समय पर निरीक्षण किया जाएगा। फर्जी परीक्षार्थी की क्यूआर कोड से होगी पहचान

बोर्ड की परीक्षा फर्जी परीक्षार्थी नहीं दें सकेंगे। बोर्ड ने परीक्षा को लेकर हाईटेक टेक्नोलॉजी अपनाई गई है। बोर्ड ने प्रवेश पत्र पर क्यूआर कोड लगाया है। उड़नदस्ते क्यू आर कोड को स्कैन करके परीक्षार्थी के फोटो व विवरणों की जांच करेंगे। जिससे फर्जी परीक्षार्थी की जांच करने में आसानी होगी। बोर्ड चेयरमैन के विशेष उड़नदस्ते के कन्वीनर गुरदीप सैनी ने बताया कि पहली बार फर्जी परीक्षार्थी की जांच क्यूआर कोड से हो सकेगी। एक नजर में परीक्षा

परीक्षा केंद्र : 92

संवेदनशील परीक्षा केंद्र : 5

अति संवेदनशील परीक्षा केंद्र : 2

विशेष उड़नदस्ते : 14

कुल परीक्षार्थी : 183251

छात्र परीक्षार्थी : 100007

छात्रा परीक्षार्थी : 83251

परीक्षा अधीक्षक : 92

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप