जेएनएन, रोहतक। भाजपा निर्भया कांड के दोषियों की फांसी की सजा में हो रही देरी के चलते आम आदमी पार्टी को जिम्मेदार मान रही है, वहीं पार्टी के ही केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर इसे कानूनी प्रक्रिया का हिस्सा बता रहे हैं। उनका कहना है धक्के से कुछ नहीं किया जा सकता। वे महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे।

केंद्रीय राज्य मंत्री गुर्जर ने कहा कि निर्भया के दोषियों ने दया याचिका दायर की, जिस पर कानून के अनुसार कार्रवाई की गई है, किसी पर भी धक्के से कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में अपराधियों को किसी कीमत पर नहीं बख्शा जाएगा। जिसने अपराध किया है उसे सख्त सजा मिलेगी। 

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह कानून विधानसभाओं के दायरे से बाहर है और जो राज्य इसका विरोध कर रहे हैं, वे महज राजनीतिक रोटियां सेक रहे हैं। क्योंकि लोकसभा चुनाव में उन्हें उनकी हैसियत का पता चल गया है, लेकिन अब वे जनता को बेवकूफ नहीं बना सकते।

गुर्जर ने कहा कि शोषित व पिछड़े लोगों के लिए केंद्र सरकार बहुत सी योजनाएं चला रही है, उनका लाभ उन तक पहुंच सके यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि दिव्यांगों के लिए देश में लगभग 8000 कैंप लगाए गए और 15 लाख दिव्यांगों को उपकरण भी वितरित किए गए। जिस पर 850 करोड़ रुपये खर्च आया। यह आज तक के इतिहास में मोदी सरकार का सराहनीय कदम है, क्योंकि इससे पहले कभी भी दिव्यांगों के लिए 100 करोड़ रुपये तक की सहायता भी नहीं दी गई। गुर्जर ने कहा कि केंद्र सरकार समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिए काम कर रही है। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस