जागरण संवाददाता, रोहतक : सड़क हादसे के मामले में जान से मारने की धमकी से परेशान नेहरू कालोनी में युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक की बेटी कुछ माह पहले बाइक की टक्कर से घायल हो गई थी। इसका मामला थाने में दर्ज है। आरोपित पक्ष उसी मामले में समझौता नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दे रहा था। मृतक के पास से सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। सिटी थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

नेहरू कालोनी के रहने वाले 30 वर्षीय हरदीप पुत्र प्रेमपाल परिवार के साथ किराए पर रहता था। बुधवार सुबह हरदीप अपने ही मकान में फांसी पर लटका मिला। परिजनों ने उसे आनन-फानन में नीचे उतारा और पीजीआइ लेकर पहुंचे। वहां पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर सिटी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। मृतक के पास से सुसाइड नोट बरामद हुआ। हरदीप की बेटी रिया का दिसंबर 2018 में जींद रोड पर निडाना निवासी शुभम पुत्र भंवर ने बाइक से एक्सीडेंट कर दिया था। रिया गंभीर रूप से घायल हो गई थी। हरदीप ने यह मामला थाने में दर्ज करा दिया था। आरोप है कि इस मामले में भंवर और निडाना के पूर्व सरपंच का बेटा जीतू समझौता नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दे रहे थे। इससे परेशान होकर आत्महत्या की है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। 29 अगस्त को भी किया था आत्महत्या का प्रयास

हरदीप ने 29 अगस्त को भी जहरीला पदार्थ निगलकर आत्महत्या का प्रयास किया था। उसे पीजीआइ में भर्ती कराया गया था। उपचार के बाद उसकी जान बच गई थी। उस समय हरदीप ने बयान दिया था कि भंवर और जीतू उसका रास्ता रोकर जान से मारने की धमकी देते हैं। कहते है कि राजीनामा कर लो। आखिरी बार आरोपितों ने जींद रोड पर गुरुकुल के पास रास्ता रोकर धमकी दी थी। उनकी धमकियों से परेशान होकर 29 अगस्त को हरदीप ने जहरीला पदार्थ निगल लिया था। हरदीप के बयान के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था। परिवार का रो-रोकर बुरा हाल

हरदीप के परिवार में उसकी पत्नी मीनू, नौ वर्षीय बेटा विपिन और आठ वर्षीय बेटी रिया है। उसकी मौत के बाद पूरे परिवार में मातम पसरा हुआ है। आसपास के लोग उन्हें दिलासा दे रहे हैं।

जिस वक्त हरदीप ने जहर निगलकर आत्महत्या का प्रयास किया था, उस समय उसके बयान पर भंवर और जीतू के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। अब मृतक के पास से सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। आरोपितों के खिलाफ उसी मामले में 306 धारा जोड़ दी गई है।

- एसआइ सुरेंद्र, चौकी इंचार्ज गोकर्ण

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस