मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, रोहतक : रेलवे कर्मचारियों ने अपने क्वार्टरों के बाहर अवैध रूप से पार्किंग बनाई हुई है। जिसके चलते रेलवे स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था को खतरा हो रहा है। अवैध रूप से बनाई गई पार्किंग में बिना किसी जांच पड़ताल के वाहनों को खड़ा किया जा रहा है। इसके लिए क्वार्टर में रहने वाले कर्मचारी वसूली भी करते हैं। जीआरपी और आरपीएफ थाने के ठीक सामने अवैध पार्किंग चलने के बाद भी अभी तक आरोपितों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे स्टेशन के गेट पर एक पार्किंग बनी हुई है। यात्री इस पार्किंग में वाहन खड़ा कर ट्रेन से सफर करते हैं और वापस आकर बाइक आदि ले लेते हैं। इसके बाद भी रेलवे कर्मचारियों ने अपने क्वार्टरों के सामने अवैध रूप से एक पार्किंग शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि करीब 90 वाहनों को प्रतिदिन यहां पर अवैध रूप से खड़ा किया जा रहा है। जिसके चलते स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था खतरे में है। जीआरपी थाने के ठीक सामने अवैध पार्किंग चलने के बाद भी अधिकारियों ने इस संबंध में कोई कार्रवाई करने की जहमत नहीं उठाई है। बताया जा रहा है कि वाहन खड़े करने वाले लोगों को लुभाने के लिए रेलवे कर्मचारियों ने पार्किंग से कम धनराशि वसूलना शुरू कर दिया है। जिसके चलते बड़ी संख्या में लोग क्वार्टरों के सामने वाहनों को खड़ा कर रहे हैं। दूसरी ओर लगातार रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी मिलने के बाद भी जीआरपी ने स्टेशन की सुरक्षा को लेकर कोई कदम नहीं उठाया है। जीआरपी थाना प्रभारी स्नेही राज ने बताया कि अवैध पार्किंग का मामला प्रकाश में नहीं है। क्वार्टरों के सामने खड़े वाहनों की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप