जागरण संवाददाता, रोहतक : परिवहन विभाग के द्वारा सात अगस्त को प्रदेशव्यापी हड़ताल में शामिल रोडवेज कर्मचारियों के निलंबन के आदेश के विरोध में रोडवेज कर्मचारियों ने बृहस्पतिवार को नए बस स्टैंड पर प्रदर्शन किया। हरियाणा रोडवेज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले कर्मचारियों ने कहा कि अगर निलंबन के आदेश को जल्द नहीं वापस लिया गया तो पूरे प्रदेश में आंदोलन किया जाएगा।

समिति के वरिष्ठ नेता व सर्व कर्मचारी संघ से संबंधित हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन के राज्य उप महासचिव राम आसरे यादव को निलंबित करने के आदेश पर रोडवेज कर्मचारियों में परिवहन निगम के प्रति भारी रोष है। कर्मचारी नेताओं ने तुरंत निलंबन के आदेश को रद्द करने की मांग की है। हरियाणा रोडवेज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के वरिष्ठ नेता वीरेंद्र धनखड़ ने बताया कि सरकार ने सात अगस्त को प्रदेश के सभी डिपो में हुई सफल हड़ताल से सबक लेकर किलोमीटर स्कीम के तहत 700 निजी बस ठेके पर लेने के फैसले को रद्द करने बजाए कर्मचारियों को निलंबित करने का आदेश जारी कर रही है। उन्होंने कहा राम आसरे यादव को निलंबित व 900 चालकों पर कार्रवाई की सिफारिश करके परिवहन मंत्री व उच्च अधिकारियों ने ट्रेड यूनियन अधिकारों व लोकतंत्र पर हमला किया है। जिसे रोडवेज कर्मचारी किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे। इन्होंने जताया विरोध

विरोध प्रदर्शन में युद्धवीर दांगी, सतबीर ¨सह मुंढाल, उमेद ¨सह, रामधारी, राजकुमार गिल, हिम्मत राणा, प्रदीप हुड्डा, सुरेंद्र दलाल, जयप्रकाश अहलावत आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran