जागरण संवाददाता, रोहतक : प्रेम नगर चौक स्थित बूस्टर से आखिरकार 24 घंटे बाद महिला पुलिस ने शुक्रवार सुबह ताला खुलवा दिया। हालांकि चमनपुरा मोहल्ले की महिलाओं ने इस बीच हंगामा भी किया, लेकिन पुलिस के सामने उनकी एक नहीं चली। ताले खुलने के बाद ही कई कॉलोनियों में पानी की सप्लाई शुरू हो सकी।

बता दें, कि चमनपुरा मोहल्ले की महिला-पुरुषों ने बृहस्पतिवार सुबह सात बजे बूस्टर पर ताला जड़ दिया था। दिन भर विरोध-प्रदर्शन के बाद शाम के समय महिलाएं चाबी अपने साथ ले गई, जिस कारण चमनपुरा समेत आसपास की कई कॉलोनियों में भी पानी की सप्लाई नहीं हो सकी थी। मोहल्ले के लोगों का कहना था कि उनके यहां पर पानी की सप्लाई नहीं होती। कई बार आला अधिकारियों को शिकायत कर चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही। इसके चलते उन्हें तालाबंदी करनी पड़ी। रात भर तालाबंदी के कारण सुबह करीब सात बजे महिला पुलिस को मौके पर बुलाया गया। महिला पुलिस का पता चलते ही चमनपुरा मोहल्ले की महिलाएं फिर से बूस्टर पर पहुंच गए और ताला खोलने का विरोध किया। महिलाओं का कहना था कि वह समस्या का समाधान नहीं होने तक ताला नहीं खुलने देगी। हालांकि काफी देर तक चले हंगामे के बाद महिला पुलिस ने ताला खुलवा दिया। ताला खुलने के बाद ही भगत ¨सह कॉलोनी, सांई दास कॉलोनी, गोहाना रोड, प्रेम नगर और सैनीपुरा आदि कई अन्य कॉलोनियों में पानी की सप्लाई शुरू हो सकी। रात में सप्लाई नहीं मिलने के कारण शुक्रवार को दिन में भी कई बार सप्लाई दी गई।

-------------------

सुबह करीब साढ़े सात बजे महिला पुलिस को बुलाकर बूस्टर का ताला खुलवा दिया था। ताला खुलने के बाद सभी कॉलोनियों में पानी की सप्लाई दी गई। प्रयास किया जा रहा है कि पानी को लेकर कोई समस्या न हो।

- सुरेश अहलावत, एसडीओ।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप