अरुण शर्मा, रोहतक : बीपीएल और आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों का घर खरीदने का सपना जल्द ही साकार हो सकता है। हाउ¨सग बोर्ड ने रोहतक सहित प्रदेश के कुल 21 स्थानों पर तिमंजिला फ्लैट बेचने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। फ्लैट खरीदने की चाहत रखने वाले 14 अगस्त तक ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। सर्वाधिक सोनीपत में 1040 और रोहतक में कुल 933 फ्लैट बिक्री के लिए रखे गए हैं। जबकि प्रदेशभर में कुल 7533 फ्लैट बेचे जाएंगे।

हाउ¨सग बोर्ड रोहतक के संपदा प्रबंधक एसएस सांगवान का कहना है कि रोहतक के सेक्टर-26, सेक्टर-27, सेक्टर-28, सेक्टर-35, सेक्टर-36 और सेक्टर-37 में फ्लैट बिक्री के लिए रखे गए हैं। जबकि प्रदेश में दूसरे स्थानों के लिए आवेदन किए जा सकेंगे। संपदा प्रबंधक का कहना है कि आवास पाने के लिए प्रधानमंत्री आवासीय योजना के तहत 6.50 फीसद सब्सिडी मिल सकेगी। ऐसे ही जो लोग प्रधानमंत्री आवासीय योजना के लिए शहरी विकास विभाग में पंजीकरण करा चुके हैं, उन सभी को 2.50 लाख रुपये तक सब्सिडी मिल सकेगी। हाउ¨सग बोर्ड ने सेक्टरों में फ्लैट तैयार कराए गए थे। जो फ्लैट बिक नहीं सके थे, उनकी बिक्री के लिए फिर से आवेदन मांगे गए थे। अभी बीपीएल और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लाभार्थी ही आवेदन कर सकेंगे।

एसएस सांगवान, संपदा प्रबंधक, हाउ¨सग बोर्ड

50 से 70 गज तक के फ्लैट

प्रदेशभर के सभी 21 स्थानों पर 50 से 70 गज साइज के फ्लैट बिक्री के रखे गए हैं। प्रदेशभर में बिक्री के लिए जो फ्लैट रखे गए हैं, उनकी कीमत 4.50 लाख रुपये से सात लाख रुपये तक तय है। सबसे कम कीमत पानीपत में प्रति फ्लैट 4.50 लाख रुपये और रोहतक में सर्वाधिक प्रति फ्लैट सात लाख रुपये तय है। कम आए आवेदन तो पंजीकरण की रकम नहीं होगी वापस

फ्लैट पाने के लिए आवेदन के दौरान यदि कम पंजीकरण हुए तो दस फीसद रकम वापस नहीं होगी। कोई व्यक्ति यदि पंजीकरण रद कराने चाहेंगे तो संबंधित रकम हाउ¨सग बोर्ड जब्त कर लेगा। यदि ज्यादा पंजीकरण हुए तो ड्रॉ के माध्यम से फ्लैट की बिक्री होगी। ड्रॉ में जिनके फ्लैट नहीं निकलेंगे, उनकी रकम वापस होगी। ऑनलाइन आवेदन के साथ ही जमा करानी होगी 10 फीसद रकम

गरीबी रेखा से नीचे(बीपीएल) जीवन यापन करने वालों को आवेदन के साथ और ड्रॉ के बाद दस-दस फीसद रकम जमा करानी होगी। कब्जा मिलने पर निर्धारित मूल्य की 30 फीसद रकम जमा करानी होगी। शेष 50 फीसद रकम आवंटन के 60 दिन के अंदर एक मुश्त या फिर 156 समान मासिक किश्तों में ब्याज सहित रकम जमा कराने की छूट होगी। दूसरी ओर, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग(ईडब्ल्यूएस) परिवारों को आवेदन के साथ दस फीसद, ड्रॉ के बाद 20 फीसद और कब्जे के समय 70 फीसद रकम जमा करानी होगी। जिनकी तीन लाख रुपये सालाना आमदनी होगी, वही ईडब्ल्यूएस श्रेणी में शामिल माने जाएंगे। इस वेबसाइट पर कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन :

डब्लूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट एचबीएच डॉट जीओवी डॉट इन स्थान : कुल फ्लैट

रोहतक : 933 सोनीपत : 1040

करनाल : 840

कुरूक्षेत्र : 656

हिसार : 649

कैथल : 570

पानीपत : 543

फतेहाबाद : 356

टोहाना : 337

सिरसा : 314

यमुना नगर : 201

बहादुरगढ़ : 191

पिजौंर कालका : 184

रेवाड़ी : 150

धारूहेड़ा : 127

नरवाना : 123

रतिया : 86

पलवल : 70

अंबाला : 65

झज्जर : 58

घरौंडा : 40 कुल : 7533

Posted By: Jagran