मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, रोहतक : जिले में लूटपाट की वारदात थमने का नाम नहीं ले रही है। इस बार शहर के बीचो-बीच सीआइए-1 स्टाफ से चंद कदमों की दूरी पर बाइक सवार चार बदमाशों ने बिजली निगम के दो कैशियर से साढ़े चार लाख रुपये लूट लिए। विरोध करने पर आरोपितों ने लोहे की रॉड से हमला कर एक कैशियर को घायल कर दिया। सूचना मिलने पर आर्य नगर थाना पुलिस समेत सीआइए की टीम भी मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल शुरू की। लेकिन आरोपितों का कोई पता नहीं चल सका।

मूलरूप से खेड़ी माजरा गांव निवासी गौरव प्राइवेट कंपनी के माध्यम से बिजली बोर्ड में कैशियर का काम करता है। एसडीओ राजेंद्र सिंह ने बताया कि दोपहर के समय कशियर गौरव और राजेश डिवीजन-2 का करीब साढ़े चार लाख कैश लेकर बैंक में पैदल ही जा रहे थे। जैसे ही वह पुराना आइटीआइ मैदान के नजदीक पहुंचे, तभी पीछे से आए चार बदमाशों ने उन्हें रोक लिया। एक बदमाश ने गौरव पर लोहे की राड से हमला किया और दूसरे बदमाश ने उसके हाथ से रुपयों से भरा थैला लूट लिया। बदमाश शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी देते हुए वहां से फरार हो गए। बताया जा रहा है कि भागते समय बदमाश सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गए। दिनदहाड़े लूट की सूचना मिलते ही पुलिस में हड़कंप मच गया। डीएसपी पृथ्वी सिंह, आर्य नगर थाना पुलिस के अलावा सीआइए-1 की टीम भी मौके पर पहुंची। पुलिस ने बदमाशों की तलाश की, लेकिन कोई पता नहीं चल सका। बदमाशों की घेराबंदी के लिए कई स्थानों पर चेकिग अभियान भी चलाया गया। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। उधर, मामले की जांच सीआइए-1 को भी सौंपी गई है। बाइक का क्लच टूटने पर पैदल ही भागे आरोपित, नंबर प्लेट भी फर्जी

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि एक बदमाश बाइक पर आया था, जबकि तीन पहले से ही वहां घात लगाकर बैठे थे। करीब 10 सेकेंड के अंदर उन्होंने वारदात को अंजाम दे दिया। इसके बाद जब वह भागने लगे तो बाइक का क्लच टूट गया। जिसके बाद आरोपित को वहा छोड़कर फरार हो गए। बताया जा रहा है कि आरोपितों की बाइक पर लगी नंबर प्लेट भी फर्जी है। पुलिस बाइक के मालिक के बारे में जानकारी जुटा रही है। पहले से ही रेकी कर रहे थे बदमाश

बदमाशों ने जिस तरीके से वारदात को अंजाम दिया है उससे लग रहा है कि वह पहले से ही रेकी कर रहे थे। योजनाबद्ध तरीके से वारदात को अंजाम दिया गया। इसमें कहीं न कहीं विभाग के कर्मचारी की भी मिलीभगत हो सकती है। फिलहाल पुलिस ने कई संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है। बड़ा सवाल यह भी है कि इतना कैश लेकर आखिर पैदल ही क्यों भेजा गया है। हालांकि विभागीय अधिकारियों की मानें तो दोनों कैशियर पहली बार कैश लेकर पैदल जा रहे थे। भीषण गर्मी की वजह से सड़क भी थी सुनसान

दोपहर के समय भीषण गर्मी की वजह से सड़क भी सुनसान पड़ी हुई थी। बदमाशों ने इसी का फायदा उठाया और कैश लूटकर ले गए। क्योंकि दोपहर के समय गर्मी अधिक होने के कारण अधिकतर लोग अपने घरों में ही रहते हैं। ऐसे में लोगों को भी सतर्कता बरतने की जरूरत है। ताबड़तोड़ हो रही लूट की वारदात

जिले में लूटपाट की यह पहली वारदात नहीं है। पिछले एक माह के अंदर लूटपाट की कई वारदातें हो चुकी है। हाल ही में चार बदमाशों ने कच्चा बेरी रोड पर भी हुंडई की कार को दिनदहाड़े लूट लिया था, जिसका अभी तक कोई पता नहीं चल सका। इसके अलावा सांपला के पास होटल पर भी चालक से कार लूटने का प्रयास किया गया था। विरोध करने पर बदमाशों ने चालक को गोली मार दी थी। वहीं बवाना के पास चालक की आंखों में मिर्च झोंककर बदमाशों ने कार लूट ली थी। उधर, रूड़की गांव स्थित पेट्रोल पंप पर सेल्समैन को गोली मारकर करीब एक लाख रुपये लूटे थे। इन वारदातों में पुलिस को अभी तक कोई सफलता नहीं मिल सकी।

शिकायत के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। आरोपितों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। जल्दी ही आरोपितों को गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा कर दिया जाएगा।

- पृथ्वी सिंह, डीएसपी

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप