जागरण संवाददाता, रोहतक : पोलिग स्टाफ की रिहर्सल में अनुपस्थित पाए गए कर्मचारियों को अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। शुक्रवार को रिहर्सल से करीब 170 कर्मचारी दूर रहे। ज्यादातर कर्मचारियों को नोटिस दिए गए हैं। वहीं, रोहतक विधानसभा में दो महिला कर्मचारियों के साथ ही कुल 21 कर्मचारी गैर हाजिर रहे हैं। इन सभी के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिए एसडीएम ने एसपी राहुल शर्मा को चिट्ठी लिखी है।

गढ़ी-सांपला-किलोई विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी एवं सांपला एसडीएम अमरदीप सिंह ने बताया कि टैगोर ऑडिटोरियम में पोलिग स्टाफ के लिए रिहर्सल आयोजित की गई थी। कुल 66 कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए हैं। अनुपस्थित पाए गए सभी कर्मचारियों को जनप्रतिनिधि अधिनियम के अंतर्गत अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। अतिरिक्त उपायुक्त एवं कलानौर विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निग अधिकारी अजय कुमार के मुताबिक, कलानौर विधानसभा क्षेत्र के 83 कर्मचारी रिहर्सल में आए ही नहीं। रोहतक के एसडीएम एवं रोहतक विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी राकेश कुमार ने बताया कि पोलिग स्टाफ रिहर्सल में 21 अनुपस्थित पाए गए हैं।

सखी बूथ पर तैनात होने वाली दो महिला कर्मचारियों पर भी होगा केस

रोहतक एसडीएम राकेश कुमार ने बताया है कि महिला मतदाताओं को जागरूक करने के लिए इस बार भी सखी बूथ बनाए जाएंगे। दो अलग-अलग सखी बूथों पर जिन महिलाओं को तैनाती दी गई है वह नदारद रहीं। इन दो महिला सहित कुल 21 कर्मचारी गैर हाजिर रहे हैं। इसलिए इनके खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा। कुल 3564 कर्मचारियों को रिहर्सल में बुलाया गया

एनआइसी के सूचना एवं विज्ञान अधिकारी मुनीश बाबू गुप्ता ने बताया कि रिहर्सल के लिए कुल 3564 कर्मचारियों को बुलाया गया था। फिलहाल रोहतक जिले में कुल 810 बूथ हैं। इस हिसाब से कुल 810 टीमें और 10 फीसद अतिरिक्त कर्मचारी भी हैं। इसलिए करीब 892 टीमों को रिहर्सल में शिरकत करनी थी। इनका कहना है कि फाइनल रिहर्सल थी। इसलिए कर्मचारियों का पहुंचना बेहद जरूरी था। इससे पहले उपायुक्त आरएस वर्मा ने रिहर्सल कराई थी। कर्मचारियों के आए अजीबो-गरीब बहाने

चुनाव ड्यूटी से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि ड्यूटी कटवाने के लिए कर्मचारियों के अजीबो-गरीब बहाने सामने आ रहे हैं। अभी तक पांच-सात मामले बीमारी वाले सामने आ रहे हैं। ऐसे ही कुछ लोग परिवार में शादी की तैयारियों से लेकर अन्य बहाने लेकर पहुंच रहे हैं। कुछ कर्मचारी तो मेडिकल सर्टिफिकेट लेकर आ चुके हैं। इसमें डॉक्टरों ने आराम की सलाह दे रखी है। ड्यूटी करने की स्थिति में बीमारी बढ़ने का दावा कर रहे हैं। कुछ मामलों में जांच शुरू हो चुकी है।

--------

बार-बार चेतावनी के बावजूद भी कर्मचारी गैर हाजिर रहना गंभीर लापरवाही है। रोहतक विधानसभा के गैर हाजिर सभी कर्मचारियों के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिए एसपी को पत्र लिख दिया है।

राकेश कुमार, एसडीएम रोहतक व चुनाव अधिकारी रोहतक विधानसभा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप