मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, रोहतक : पीजीआइएमएस के ट्रॉमा सेंटर में फर्जी एएसपी बनकर चिकित्सकों को धमकाने वाले आरोपित के खिलाफ ट्रॉमा सेंटर इंचार्ज ने पुलिस को शिकायत दी है। बताया जा रहा है कि पुलिस जल्द ही आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई करेगी। इससे पहले तीन दिन पहले आरोपित ने ट्रॉमा सेंटर में घुसकर स्टाफ के साथ अभद्रता करते हुए जमकर फटकार लगाई थी। आरोपित के जाने के बाद जब पुलिस उच्चाधिकारियों से संपर्क किया तो आरोपित के फर्जी होने का खुलासा हुआ।

29 मई को पीजीआइएमएस के ट्रॉमा सेंटर में एक फर्जी एएसपी पुलिसकर्मी की वर्दी पहने युवक के साथ पहुंच गया। इसके बाद आरोपित ने चिकित्सकों और स्टाफ से खुद को एएसपी बताकर रिकॉर्ड तलब कर लिया। इसके बाद आरोपित ने रिकॉर्ड में कमी बताते हुए चिकित्सकों को जमकर फटकार लगाई। इसके बाद वह ट्रॉमा सेंटर स्थित सीटी स्कैन कक्ष पहुंचा और स्टाफ को जमकर फटकार लगाई। इस दौरान आरोपित ने महिला स्टाफ के फोन नंबर लिए, और वहां से चला गया। जिसके बाद मेडिकल स्टाफ ने अधिकारियों को अवगत कराया। पीजीआइ अधिकारियों ने एसपी को फोन कर उक्त अफसर की कुंडली खंगाली तो आरोपित के फर्जी होने का पता चला था। अब पीजीआइ के ट्रॉमा सेंटर इंचार्ज डीएमएस डा. संदीप कुमार ने पीजीआइ थाना पुलिस को शिकायत देकर आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। हालांकि अभी तक यह भी साफ नहीं हो सका है कि फर्जी अधिकारी के साथ आया पुलिस की वर्दी में युवक कौन था। पीजीआइएमएस के पीआरओ डा. वरुण अरोड़ा ने बताया कि फिलहाल पुलिस को शिकायत दी गई है। पुलिस ने जल्द ही कार्रवाई का भरोसा दिया है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप