संवाद सहयोगी, सांपला :

सब डिविजन के गांव चुलियाना में शनिवार को संत शिरोमणि भक्त धन्ना जाट का 603वां जन्मोत्सव मनाया गया। गांव में स्थित धन्ना सिद्ध भक्ति पीठ की ओर से भक्त धन्ना का जन्मदिन मनाया गया। पीठाधीश चीकू भगत की अध्यक्षता में हुए समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सेनाचार्य भारत स्वामी नरेशानंद शुक्रताल ने शिरकत की। धन्ना भक्त के जन्मदिन पर सत्संग हुआ जिसमें भक्त धन्ना के जीवन पर प्रकाश डालने के साथ उनकी भक्ति गाथा को वाणी से प्रस्तुत किया गया। पीठाधीश चीकू भक्त ने शब्दवाणी में कहा कि धन्ना भक्त का जन्म एक किसान परिवार में सन 1415 में टोंक जिले के गांव धुनागढ़ में हुआ था। उन्होंने बताया कि धन्ना भक्त ने गृहस्थ जीवन में भक्ति को अहम माना है। उन्होंने कहा कि जब तक मनुष्य में जब तक क्रोध, इष्र्या, स्वार्थ व आलस्य की गिरफ्त में होता है। वह अंदर की शांति को प्राप्त नहीं कर सकता है। हमें भी कुरीतियों व अहम से बचकर भक्ति के मार्ग पर चलकर प्रभु को जानना चाहिए। वहीं सेनाचार्य भारत स्वामी नरेशानन्द शुक्रताल ने सत्संग में श्रद्धालुओं को भक्ति से आंतरिक विकारों को दूर कर सत्य के मार्ग पर चलने की प्रेरणा दी। धन्ना भक्त के जन्मोत्सव पर गांव में भंडारा भी लगाया गया, जिसमें श्रद्धालुओं को देशी घी से बना प्रसाद परोसा गया। वहीं पीठाधीश चीकू भक्त ने गरीबों व जरूरतमंदों के साथ कन्याओं को कंबल वितरित किए। इस अवसर साहब देवी, सविता, विजयपाल, रोशन, धनपति हुड्डा, नरेंद्र व सावित्री सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप