संवाद सहयोगी, महम :

बहलबा गांव के खेतों में बृहस्पतिवार अलसुबह करीब पांच बजे ओवरफ्लो होने से भिवानी डिस्ट्रीब्यूटरी टूट गई। किसानों का कहना है कि इससे उनकी लगभग 800 एकड़ कपास, धान, गेहूं व सरसों की फसल जलमग्न हो गई। हालांकि किसानों ने पानी के बहाव को रोकने के लिए कड़ी मशक्कत की, लेकिन बहाव तेज होने की वजह से पानी को नहीं रोका जा सका। स्थिति नियंत्रण से बाहर होते देख किसानों ने डिस्ट्रीब्यूटरी टूटने की जानकारी सिचाई विभाग के अधिकारियों को दी। करीब तीन घंटे बीत जाने के बाद भी कोई अधिकारी मौके पर नही पहुंचा तो किसानों में गुस्सा हो गया। गुस्साए किसानों ने महम-बेरी मार्ग पर जाम लगा दिया।

जिला उपायुक्त आरएस वर्मा, पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा, एसडीएम अभीषेक मीणा, थाना प्रभारी सुरेश भड़ाना व पीडब्लूडी के अधिकारी मौके पर पहुंचे और किसानों को शांत करवाने का प्रयास किया। लेकिन किसान जलभराव से प्रभावित फसलों का मुआवजा दिलाने व जल्द से जल्द पानी की निकासी करवाने की मांग पर अड़े रहे। उसके बाद जिला उपायुक्त ने किसानों को जल्द पानी निकासी करवाने व प्रभावित फसल की गिरदावरी करवाने के आदेश दिए। वहीं डिस्ट्रीब्यूटरी टूटने के मामले की जांच करवाने का आश्वासन दिया। उसके बाद किसानों ने जाम खोला। सिचाई विभाग के कर्मचारियों व किसानों ने करीब छह घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पानी के बहाव पर नियंत्रण पाया।

भैणी चंद्रपाल माइनर भी टूटी

भिवानी डिस्ट्रीब्यूटरी के अलावा बृहस्पतिवार को ही भैणी चंद्रपाल माइनर की भी पटरी में दरार आने से बुर्जी नंबर 38 के पास टूट गई। जिससे काफी एकड़ कपास, धान, गेहूं व सरसों की फसल जलमग्न हो गई। किसानों व सिचाई विभाग ने कर्मचारियों ने कड़ी मशक्कत के बाद पानी के बहाव को बंद किया। किसान परमजीत, वजीर, नरेश, बलराज, सुखजीत व अन्य ने बताया कि माइनर टूटने से करीब 30 एकड़ फसल खराब होने की संभावना है। खराब हुई फसल की जल्द गिरदावरी करवाकर उचित मुआवजा दिया जाना चाहिए।

किसानों को दिया जाएगा उचित मुआवजा : डीसी

जिला उपायुक्त आरएस वर्मा ने कहा कि जलभराव से प्रभावित हुई फसलों की जल्द गिरदावरी करवाई जाएगी और उचित मुआवजा दिया जाएगा। वहीं डिस्ट्रीब्यूटरी टूटने की भी जांच करवाई जाएगी। जो भी कर्मचारी इसमें दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप