संवाद सहयोगी, महम : मदीना डाइट के प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को महम से विधायक बलराज कुंडू से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। प्रतिनिधिमंडल ने डाइट में डीएलएड के दाखिले बंद किए जाने के संदर्भ में बातचीत की। विधायक ने प्रतिनिधिमंडल को उचित आश्वासन दिया।

विधायक कुंडू ने सरकार से मांग भी करते हैं कि बेतुकी और गलत नीतियां त्याग कर प्रदेश के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने से बाज आएं अन्यथा परिणाम ठीक नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि नियम के मुताबिक प्रत्येक डाइट में वहां की पंचायत को पांच सीटें रिजर्व मिलती थी और करीब ढाई से साढ़े तीन हजार रुपये की फीस में ही हमारे बेटे-बेटियां पढ़ रहे थे। लेकिन भाजपा सरकार को यह बात हजम नहीं हुई कि गरीब और पिछड़े परिवारों के बच्चे पढ़-लिख कर आगे बढ़ रहे हैं। इसीलिए एक साजिश के तहत प्रदेश की सभी 21 डाइट और गैटी इत्यादि में दाखिलों पर रोक लगाकर प्राइवेट संस्थानों को बढ़ावा दिया जा रहा है जबकि इन डाइट में एक सत्र में करीब 2500 बच्चे पढ़ाई करते थे। उन्होंने बताया कि शिक्षा के क्षेत्र में डाइट एक अग्रणी संस्था है शिक्षा में नवचार शोध, प्रशिक्षण आदि कार्यक्रम समय-समय पर चलाए जाते है। जिनसे राज्य में कार्यरत सभी विद्यालयों के सभी अध्यापकों को लाभ मिलता है। मदीना स्थित जिला शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान के स्टाफ सदस्यों ने विधायक को बताया कि संस्थान में डीएलएड का कोर्स अत्यंत गुणवतापूर्वक शिक्षा के साथ नाम मात्र की फीस में ही करवाया जाता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस