जागरण संवाददाता, रोहतक : आर्य समाज बोहर और लोकहित संस्था के तत्वावधान में नांदल भवन स्थित यज्ञशाला में चीन से बने सामान को जलाया गया। बच्चों ने अपने खिलौने और कई लोगों ने मोबाइल को भी आग के हवाले कर चाइनीज वस्तुओं के बहिष्कार की घोषणा की। साथ ही निर्णय लिया गया कि कोई भी ग्रामीण चाइनीज सामान नहीं खरीदेगा। इस दौरान आचार्य कृष्ण और अजय आर्य ने कहा कि अब चाइनीज सामान का बहिष्कार करना जरूरी हो गया है। सभी को मिलकर चाइना को सबक सिखाना होगा। लोकहित संस्था के प्रधान एडवोकेट चंचल नांदल ने कहा कि देशवासी एक वर्ष में करीब पांच लाख करोड़ रुपये का चाइनीज सामान खरीदते हैं। चाइना की हरकतों को देखते हुए अब यह बंद करना होगा। इस मौके पर आर्य समाज बोहर के प्रधान धनीराम आर्य, विशाल नांदल, सुभाष पहलवान, वीरेंद्र ठेकेदार, रितेश पहलवान, दीपक, पुनीत, रितिक, मोहन, सौरभ, कर्मबीर, मोनू, शौर्य नांदल, दीपक, मुकेश, नवीन और भोलू आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस