जागरण संवाददाता, रोहतक

जनस्वास्थ्य विभाग ने दावा किया है कि पानी की आपूर्ति को लेकर अभी तक हालात ठीक हैं। 23 जून तक परेशान होने की जरूरत नहीं है। हालांकि इसके बाद अगले आठ दिन परेशानी वाले रह सकते हैं। वजह है कि अभी भालौठ नहर से पेयजल आपूर्ति हो रही है। यह भी दावा किया गया है कि शहरी क्षेत्र में फिलहाल कोई कटौती नहीं है।

जनस्वास्थ्य विभाग के एक्सईएन भानु प्रकाश ने बताया है कि 23 जून तक भालौठ नहर से पेयजल आपूर्ति होगी। इस नहर से पेयजल आपूर्ति होने के कारण पानी की कटौती नहीं होगी। जेएलएन नहर से 16 दिन पेयजल आपूर्ति और इतने ही दिन बंद रहती है। जबकि भालौठ नहर से आठ दिन पेयजल आपूर्ति होती है। इसलिए अभी तक पानी की कटौती को लेकर कोई योजना तय नहीं की गई है। गर्मी को देखते हुए तय किया गया है कि सिचाई विभाग से 23 जून के बाद भी जरूरत के हिसाब से पानी मांगा जाए। इसलिए जल्द ही पत्र लिखा जाएगा। जिससे सिचाई विभाग के उच्चाधिकारी नहरी पानी की आपूर्ति का इंतजाम कर सकें।

सेक्टर-6 से सुपवा में पेयजल आपूर्ति का विवाद नहीं थमा

सेक्टर-6 की रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान रमेश खासा ने दावा किया है कि अभी तक हमारे सेक्टर में महज 35 तक ही आवासों का निर्माण हो सका है। भविष्य में 599 तक आवास निर्मित हो गए तो पेयजल आपूर्ति के लिए परेशानियां बढ़ जाएंगी। सेक्टरवालों ने दावा किया है कि दो दिनों में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों से मुलाकात करेंगे। अधिकारियों से मांग करेंगे कि सुपवा को किसी भी सूरत में सेक्टर-6 की लाइन से पानी की आपूर्ति न हो। यदि सुपवा को पेयजल आपूर्ति सेक्टर-6 की मुख्य लाइन से होती है तो सभी दूसरे सेक्टर वालों से भी आंदोलन से मदद लेकर आंदोलन किया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस