जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: साउथ रेंज रेवाड़ी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक डॉ. आरसी मिश्रा ने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान बूथों की व्यवस्था को परखने की जिम्मेदारी थाना प्रभारी की होगी। यदि सुरक्षा में कोई कमी लगती है तो उपायुक्त व पलिस अधीक्षक को तुरंत सूचित करें। वह बृहस्पतिवार को चुनाव से संबंधित बैठक में पुलिस अधिकारियों व थाना प्रभारियों को संबोधित कर रहे थे। बैठक में पुलिस अधीक्षक नाजनीन भसीन भी मौजूद रही।

उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया के दौरान लगाने वाले नाकों को हाईटेक किया जाएगा तथा सभी जगह पर सीसीटीवी कैमरे व लाइटें भी होनी चाहिए। ये नाके 24 घंटे रहेंगे तथा ड्यूटी पर रहने वाले पुलिसकर्मियों के लिए खाने व रहने की व्यवस्था भी अच्छी होनी चाहिए। चुनाव के दौरान नकदी पर विशेष नजर रखी जाए। उन्होंने कहा कि फर्जी मतदाताओं की पहचान के लिए सभी गांवों में मौजिज लोगों की कमेटी गठित करें। मोस्ट वांटेड, पैरोल जंपर व जमानत पर छूटे अपराधियों पर विशेष नजर रखे। शिकायतों का तुरंत करें निपटारा

उन्होंने कहा कि दुष्कर्म के मामलों में 30 दिन में व छेड़छाड़ के मामलों में 15 दिन के अंदर चालान बनाकर कोर्ट में पेश करने की कोशिश करें। थाने में आने वाली शिकायतों का भी तुरंत निपटारा करें। कार्रवाई में देरी होने पर आरोपित पक्ष पुलिस को भटकाने का काम करते है। वाहन चोरी रोकने पर विशेष अभियान चलाएं। नशा बेचने वाले बड़े माफियाओं पर शिकंजा कसे तथा हाईवे पर विशेष नजर रखी जाए। इनसेट:

ट्रेफिक नियमों पर अपनी सोच बदलें लोग

इसके बाद एडीजीपी डा. आरसी मिश्रा ने सड़क सुरक्षा अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि बढ़ते सड़क हादसे समाज के साथ-साथ हर किसी के लिए चिता का विषय है। ट्रेफिक नियमों पर लोग अपनी सोच बदले तथा उनका पालन करें। हर साल हजारों लोग अपनी जान गंवा रहे है तथा घायल होकर अपाहिज हो रहे है। एक सितंबर से संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट लागू हो चुका है। नया एक्ट लोगों को डराने के लिए नहीं, बल्कि नियमों का पालन कराने के लिए है। लोग स्वयं जागरूक होकर अपनी व दूसरों की सुरक्षा के लिए नियमों का पालन करें। पिछले कुछ दिनों तक जिला में जागरूकता अभियान चलाया गया था। हादसे में किसी की मौत हो जाती है तो पूरे गांव व मोहल्ले में मातम छा जाता है। वाहन चलाते समय अपनी व दूसरों की सुरक्षा के बारे में भी सोचे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप