जागरण संवाददाता, रेवाड़ी : केरल में फैल रहे खतरनाक निपाह वायरस को लेकर यहां भी अलर्ट किया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने एहतियात के तौर पर सावधानी बरतने की सलाह दी है। यदि कोई इस प्रकार का मरीज आता है तो ट्रॉमा सेंटर में आइसोलेटिड वार्ड बनाया हुआ है। लोग भी चिकित्सकों के पास निपाह वायरस के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं। लोग सोशल साइट्स से जुटा रहे जानकारी:

निपाह वायरस को लेकर लोग भी जागरुकता दिखा रहे हैं। कोई सोशल साइट्स पर जानकारियां जुटा रहा हैं तो कोई इसके उपचार की विधि तलाश रहा हैं। कटे फलों को खरीदने में बरत रहे सावधानी:

चिकित्सकों ने लोगों से पूरी तरह सावधानी बरतने की सलाह दी है। लोग भी बाजार में कटे फल या सब्जी खरीदने से परहेज कर रहे हैं। इसके अलावा खांसी, बुखार, वायरल आदि की शिकायत पर भी चिकित्सकों के पास निपाह वायरस का अंदेशा जताने लगे हैं।

----

अभी प्रदेश में निपाह वायरस का कोई प्रकोप नहीं है। लोगों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। निजी चिकित्सकों को भी निर्देश दिए गए हैं कि वे लोगों को जागरूक करे। किसी प्रकार की अफवाह नहीं फैलाएं। स्वाइन फ्लू जैसे ही निपाह वायरस के भी लक्षण होते हैं। पशु पालकों विशेषकर सुअर पालने वालों को विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है। साफ सफाई के साथ सुअरों की नियमित रूप से पशु चिकित्सकों से जांच कराते रहें ताकि कोई वायरस नहीं फैल पाए।

- डॉ. कृष्ण कुमार, सिविल सर्जन

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस