पानीपत/अंबाला, जेएनएन। मामा मैं जहर खा रहा हूं। मेरे शरीर पर डंडों के निशान हैं। मामा इन्हां नूं छड़ी ना। मैं इन तीन लोगों से तंग हूं। एक सौतेली मां बिंदर कौर, दूसरा ताया सुखदेव सिंह व तीसरा ताई रेनू है। इनके कारण मैं जहर खाने लगा हूं। मेरे को बहुत टार्चर करते हैं। मेरे साथ मारपीट तक की जा रही है। मेरे शरीर पर डंडों के निशान है। मामा मेरे ताया ने मेरी मां को भी मारा था। नारायणगढ़ के वार्ड नंबर 11 के प्रीतपाल सिंह ने शुक्रवार को जहरीला पदार्थ निगलकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या से पहले उसने अपना वीडियो बनाया और उसे अपने मामा व ननिहाल वालों को वायरल कर दिया। वायरल वीडियो में कुछ इसी तरह अपना दर्द बता रहा है प्रीतपाल सिंह। पुलिस ने मृतक की नानी प्रीतम कौर की शिकायत पर तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर तफ्तीश शरू कर दी है।

मृतक की नानी प्रीतम कौर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वार्ड न.11 में रहने वाले प्रीतपाल सिंह जिसके पिता सुखविन्द्र सिंह मूल रूप से गांव पंजोडी के रहने वाले है। लेकिन पिता ने वार्ड न.11 में एक कोठी बनाई थी। उसमें प्रीतपाल सिंह रहता था। पिता सुखविन्द्र सिंह फ्रांस गए हैं और भाई अमेरिका में है। प्रीतपाल की माता की मृत्यु के बाद उसके पिता ने दूसरी शादी कर ली थी। सौतेली मां की नजर सुखविन्द्र की जायदाद पर थी। लेकिन नारायणगढ़ में जो कोठी थी वह लड़कों के नाम पर थी। जायदाद को लेकर सौतेली मां बिंदर कौर साथ में ताया-ताई निवासी पंजोडी प्रीतपाल को प्रताडि़त करते थे। कई बार उससे मारपीट भी करते थे। इसी से तंग आकर उसने आत्महत्या कर ली।

डाक्टरों का पैनल करेगा पोस्टमार्टम, मामा के आने का इंतजार
मृतक प्रीतपाल के मामा सेना में गुजरात में तैनात हैं। अब उनके आने के बाद ही प्रीतपाल का पोस्टमार्टम होगा। पुलिस ने शव मोर्चरी में रखवा दिया है। मामा के आने के बाद इस मामले में डाक्टरों का पैनल मृतक के शव का पोस्टमार्टम करेगा।

शिकायत व वीडियो पीडि़त परिवार ने दी है। उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। शव को सिविल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया है। प्रीतपाल के शव को पोस्टमार्टम उसके मामा के आने पर होगा जो एक सैनिक हैं। उनकी ड्यूटी गुजरात में है।
-अरविंद, थाना प्रभारी

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस