पानीपत, जागरण संवाददाता। पानीपत के गढ़ सरनाई गांव में बारिश और आंधी में तीन मंजिला निर्माणाधीन मकान की दीवार गिर जाने राकेश की मौत हो गई। उसके बेटे लक्ष्य व सोरिश घायल हो गए। वे मकान के साथ में झोपड़ी में सो रहे थे।

पानीपत में सोमवार सुबह बड़ा हादसा हो गया। पानीपत के गांव गढ़ सरनाई में आंधी और तूूफान की वजह से मासूम बच्‍चे के सिर से पिता का साया उठ गया। तीन मंजिला निर्माणाधीन बिल्डिंंग की दीवार गिर गई। दीवार का मलबा बगल में झोपड़ी पर गिरा, जिससे सो रहा परिवार दब गया। 

मलबे में पिता, मां और दो बच्‍चे दब गए थे। अचानक दीवार गिरने चीख पुकार मच गई। शोर सुनकर आसपास झोपड़ी में सो रहे लोग उठ गए और बचाने को दौड़े। किसी तरह से मलबे में दबे परिवार के लोगों को निकाला गया। दो बच्‍चों और उनके पिता को गंभीर चोट आई थी। उन्‍हें अस्‍पताल ले जाया गया। जहां बच्‍चों का इलाज चल रहा है, जबकि पिता को मृत घोषित कर दिया गया। मृतक मजदूरी का काम करता था। पहचान 30 वर्षीय राकेश के रूप में हुई है। वहीं, दो वर्षीय बेटा सोरिश और पांच वर्षीय लक्ष्‍य घायल है।

कैथल में आंधी का कहर 

कैथल में भी आंधी का कहर देखने को मिला। आंधी की वजह से कैथल जींद रोड पर पेड टूट गया। इससे सुबह सड़क पर जाम लग गया है। अभी तक पेड़ को हटाया नहीं जा सका है। 

Edited By: Anurag Shukla