पानीपत, जेएनएन -  आमतौर पर तंग रास्‍ते  से लोग परेशान ही होते हैं। पर एक तंग रास्‍ता ट्राला चालक के लिए राहत बनकर ही आया। बदमाशों ने तो उसे लूट ही लिया था। पर जाम लगा होने के कारण ट्राला ले नहीं जा सके। वहीं से नीचे उतरकर भाग गए। वारदात गन्नौर के पास की है। नेशनल हाईवे से चालक के साथ मारपीट कर ट्राला लेकर भागे बदमाश बुड़शाम में तंग रास्ता होने पर खुद को फंसते देख चालक व गाड़ी को छोड़ फरार हो गए। चालक इसराना से सोनीपत जा रहा था। गन्नौर  के  पास गाड़ी को ढाबे पर खाना खाने के बाद चला था। तभी बदमाशों ने उसे गाड़ी में ही बंधक बना लिया और गाड़ी लेकर चल पड़े। लुटेरे भागते समय चालक का पर्स व मोबाइल फोन भी ले गए। 

उप्र के कन्नौज जिले के गांव रूद्रपुर निवासी अनिल ने बताया कि उसने गाजियाबाद स्थित जगदम्बा ट्रांसपोर्ट पर 7 अक्टूबर से चालक की नौकरी शुरू की। तीन दिन पहले नोएडा स्थित देवला से ट्राले में माल लेकर इसराना आया था। वहां से गाड़ी खाली होने के बाद सोनीपत के लिए चल पड़ा। साढ़े दस बजे गन्नौर से थोड़ा सा आगे हाईवे किनारे खुले ढाबे पर खाना खाकर जैसे ही गाड़ी पर चढ़ा तो तभी दो युवक आए। 

पिस्‍तौल दिखाई, खुद चलाने लगे ट्राला 

एक बदमाश उसे धक्का देकर उसकी सीट पर जा बैठा और दूसरे ने परिचालक साइड से घुसकर उसे पिस्टल के बट से मार सीट पर लेटा शोर मचाने पर मारने की धमकी दी। फिर बदमाश ट्राले को चलाते हुए पानीपत रोहतक हाईवे बाइपास से गांव बुड़शाम पहुंचे। जहां उन्होंने पहले तो एक ट्रैक्टर को साइड मारी। उसके बाद सड़क किनारे खड़ी बुग्गी में टक्कर लगी और ट्राला तंग रास्ता होने पर मुड़ा नहीं तो बदमाश खुद को फंसता देख उसे छोड़ भागने लगे। 

कार से भाग निकले 

बदमाशों को  भागता देख उसने चोर चोर की आवाज लगा शोर मचाया तो लोग निकल आए। लेकिन बदमाश आगे चल रही अपनी कार में सवार होकर नौल्था की तरफ फरार हो गए। चालक ने बताया कि बदमाश उसका पर्स व मोबाइल फोन छीन ले गए। पर्स में करीब एक हजार रुपये थे। चालक अनिल ने राहगीरों से फोन ले सूचना ट्रांसपोर्ट मालिक राजेश को दी।

ट्राला चालक, जिससे लूट की हुई कोशिश । 

सिर उठाते ही मारते  

अनिल ने बताया कि बदमाशों ने उसे गाड़ी से नहीं उतरने दिया। मारने की धमकी दे सीट पर लेटा दिया। एक बदमाश पूरी तरह से एक्सपर्ट था, जो गाड़ी को चलाते यहां तक लाया। जबकि परिचालक साइड वाली सीट पर बैठा बदमाश सिर्फ उसे ही देख रहा था। रास्ते में उसने जब भी उठकर देखने की कोशिश की तो तभी बदमाश ने उसे मारा और सिर को नीचे ही रखने के लिए कहता रहा।

बुग्गी मालिक ने ले लिए कागजात 

बदमाशों ने तंग रास्ते से ट्राले को मोड़कर निकालने की कोशिश की तो सड़क किनारे खड़ी बुग्गी से टकराने पर वो क्षतिग्रस्त हो गई। बदमाश तो गाड़ी को छोड़ फरार हो गए, लेकिन नुकसान की भरपाई के लिए बुग्गी मालिक ने चालक से गाड़ी के दस्तावेज ले लिये। नुकसान की भरपाई के बाद ही दस्तावेज देने की बात बोल रहा था। 

 

Edited By: Ravi Dhawan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट