मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, पानीपत : निगम के ठेकेदारों ने शहर में कई-कई फीट गहरे नाले खुले छोड़ दिए। ऐसे में कोई भी हादसा हो सकता है। गलियों से बरसात का पानी भी नाले में नहीं जा रहा। कमिश्नर ने नालों की ऐसी स्थिति को देखकर नाराजगी जताई। उन्होंने ठेकेदार को बुलाकर जमकर फटकारा और काम में सुधार करने की चेतावनी दी।

नगर निगम कमिश्नर ओमप्रकाश ने बृहस्पतिवार शाम को छह से आठ बजे तक वार्ड-2, 4, 5, 10 और 11 में नालों का निरीक्षण कर पानी निकासी की व्यवस्था जांची। स्थानीय लोगों ने बताया कि बारिश आने पर पानी की निकासी नहीं हो पाती। नाले बनने के बाद भी स्थिति में कोई सुधार नहीं हो पाया है। कमिश्नर ने एसई रमेश कुमार और ठेकेदार को मौके बुलाया। उन्होंने पूरे नाले की जांच की। कमिश्नर ने नाले पर असंतोष जताया। कमिश्नर ने संबंधित एमई और जेई से भी जवाब मांगा है। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों पर जेई की ड्यूटी होती है। उनकी लापरवाही से विकास कार्यों में कमी छोड़ दी जाती है। कमिश्नर ने इन वार्डों में सफाई कार्य से भी असंतोष व्यक्त किया। ---जगमहेंद्र---

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप