कैथल, जागरण संवाददाता। कोरोना महामारी के बाद अब स्कूल खुलने के बाद यहां पर स्थिति सामान्य हो रही है। जिसके बाद जहां अब स्कूली विद्यार्थियों के लिए विभिन्न सांस्कृतिक गतिविधियां भी आयोजित की जा रही हैं। वहीं, अब शिक्षा विभाग के निदेशालय ने दो वर्ष के अंतराल के बाद पहली से 12वीं की विद्यार्थी मूल्यांकन परीक्षा (सेट) आफलाइन लेने का निर्णय लिया है। यह परीक्षा 13 दिसंबर से शुरू होगी जो 31 दिसंबर तक जारी रहेगी। इसको लेकर डेटशीट जारी भी कर दी गई है। इन परीक्षा के आयोजन की जिम्मेदारी जिला शिक्षा व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी को दी गई है। इस परीक्षा के लिए निदेशालय ने हर जिले को पांच लाख रुपये की राशि भी दी है।

एमआइएस पर डाटा करना होगा अपलोड

विद्यार्थी मूल्यांकन परीक्षा को लेकर सभी सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों का डाटा एमआइएस पर अपलोड करना होगा। डाटा अपलोड करने के बाद विभाग को यह जानकारी मिलेगी कि किस स्कूल में कितने विद्यार्थी, विद्यार्थी मूल्यांकन परीक्षा में शामिल हुए हैं। ऐसा इसलिए जरूी है कि इससे विभाग को विद्यार्थियों के सेट की परीक्षा में शामिल होने की जानकारी तुरंत मिल जाएगी। ऐसे में स्कूल का अध्यापक हो या शिक्षा विभाग का अधिकारी। उसे किसी भी प्रकार से आंकड़ों को लेकर कोई परेशानी नहीं होगी।

पिछले दो सत्र से आनलाइन हो रही थी परीक्षा

कोरोना महामारी के कारण शिक्षा विभाग द्वारा पिछले दो सत्र से विद्यार्थी मूल्यांकन परीक्षा आनलाइन माध्यम से आयोजित की जा रही थी। यह परीक्षा अवसर एप के माध्यम से ली जा रही थी। परंतु इस सत्र में आयोजित होने वाली परीक्षा को आफलाइन माध्यम से लिया जाएगा। वहीं, अवसर एप से आनलाइन माध्यम सेे ली जाने वाली परीक्षा में कई विद्यार्थी एंड्रोयड फोन न होने की स्थिति में शामिल नहीं हो पाते थे। यह समस्या आफलाइन माध्यम से परीक्षा होने पर खत्म होगी।

शिक्षा विभाग के निदेशालय ने जिला शिक्षा अधिकारियों को विद्यार्थी मूल्यांकन परीक्षा का आयोजन करने के दिशा-निर्देश जारी किए हैं। यह परीक्षा 13 दिसंबर से शुरू करने के आदेश जारी किए हैं। इसको लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। जल्द ही खंड शिक्षा अधिकारियों की बैठक भी बुलाई जाएगी। जिसमें परीक्षा के आयोजन की रणनीति बनाई जाएगी।

अनिल शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी, कैथल।

Edited By: Anurag Shukla